Interview : आमिर खान के गुरु से मिलिए, ये बन गए हैं अंतरराष्ट्रीय रैफरी

  Interview : आमिर खान के गुरु से मिलिए, ये बन गए हैं अंतरराष्ट्रीय रैफरी

फिल्म दंगल के लिए मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान को ट्रेनिंग देने वाले खंडवा जिले के पहलवान कृपाशंकर पटेल अब अंतरराष्ट्रीय रैफरी बन गए हैं। यूनाइटेड वल्र्ड रेसलिंग द्वारा घोषित पैनल में उनका नाम शामिल है।

अमित जायसवाल @ पत्रिका, खंडवा. बालीवुड फिल्म दंगल के लिए मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान को ट्रेनिंग देने वाले खंडवा जिले के सोनखेड़ी गांव के पहलवान कृपाशंकर पटेल के खाते में एक और उपलब्धि जुड़ गई है। वर्ष-2016 में जर्मनी के डार्टमंड में हुई रैफरी के कोर्स की परीक्षा के रिजल्ट में कृपाशंकर पास हुए हैं और इसके साथ ही वो अंतरराष्ट्रीय रैफरी बन गए हैं। यूनाइटेड वल्र्ड रेसलिंग (यूडब्ल्यूडब्ल्यू) द्वारा घोषित पैनल में उनका नाम शामिल है। 2005 में राष्ट्रमंडल कुश्ती स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीत चुके और नेशनल कैंप में लगातार साक्षी मलिक, गीता-बबीता जैसी खिलाडि़यों को ट्रेनिंग दे रहे कृपाशंकर पटेल ने पत्रिका से खास बातचीत में कहा कि अंतरराष्ट्रीय रैफरी बनना उपलब्धि है लेकिन इससे बड़ी उपलब्धि वो होगी जब बतौर कोच आेलंपिक-2020 में मैं भारत से खिलाडि़यों को ले जाऊं। गुरुवार को कृपाशंकर पटेल दिल्ली में पहलवान राहुल और सरिता की शादी में शामिल होने पहुंचे थे।

यह भी पढ़ें : शाहिद कपूर जैसा दिखता है ये मॉडल, सोशल मीडिया पर है हिट

यह भी पढ़ें : रेड कारपेट पर हीरो बने सनी पवार ने कभी खंडवा की सड़कों पर दिखाए थे नखरे

पत्रिका से खास बातचीत में क्या बोले कृपाशंकर पटेल...
  • अब आप अंतरराष्ट्रीय रैफरी बन गए हैं? कितनी बड़ी उपलब्धि मानते हैं इसे?
  • उपलब्धि तो है, लेकिन इसमें अभी कई पायदान और चढऩे पड़ेंगे, श्रेष्ठता सिद्ध करना पड़ेगी तब ये बड़ी होगी और मैं ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व कर सीटी बजा पाऊंगा लेकिन मेरे लिए बड़ी उपलब्धि तो वही है जब मैं खिलाडि़यों को तैयार कर आेलंपिक तक ले जाऊं और वो मैडल जीते।
  • रैफरी की परीक्षा देने के लिए आपने फ्रेंच भी सीखी? अब आपकी स्ट्रेटजी क्या होगी?
  •  नहीं, मैंने फ्रेंच भाषा नहीं सीखी। मैंने अंग्रेजी में परीक्षा दी थी। भारतीय कुश्ती संघ ने मेरा नाम आगे बढ़ाया था। मेरी रणनीति ये है कि रैफरी बनकर ये अनुभव ले पाऊं कि खेल के वक्त उनके मन में क्या चलता है। इसी अनुभव को मैं खिलाडि़यों को बांट पाऊंगा ताकि वो रैफरी की सीटी को अच्छे से फेस कर सके।
  • क्या आप खुद भी ओलंपिक की तैयारी कर रहे हैं या दावेदारी जता सकते हैं?
  • मैं बतौर कोच तो खिलाडि़यों को पहलवानी में निपुण बनाने के प्रयास लगातार कर रहा हूं। मौका लगा तो खुद भी ओलंपिक के लिए दावेदारी कर सकता हूं। लेकिन मेरी प्राथमिकता कोचिंग लाइन ही है। 10 महीने में घर से दूर रहकर मैं नेशनल कैंप में साक्षी, गीता, बबीता जैसी 40 खिलाडि़यों को तैयार करता हूं।

यह भी पढ़ें : स्टैंड अप इंडिया में ब्रिक्स फैक्ट्री लगाकर करोड़पति बना खंडवा का युवक

यह भी पढ़ें : क्या विलुप्त हो जाएगा गधा, मध्यप्रदेश में सिर्फ 5500 बचे

आमिर हुए थे प्रभावित, सिखाई थी पहलवानी

कृपाशंकर पटेल ने फिल्म दंगल के लिए आमिर खान और गीता-बबीता का किरदार निभा रही अभिनेत्रियों को पहलवानी सिखाई थी। कृपाशंकर पटेल से आमिर खान बहुत प्रभावित हुए और उन्होंने अपना गुरु मान लिया।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned