कोरोना की बढ़ती रफ्तार को रोकना हो रहा मुश्किल

-9 की रिपोर्ट फिर पॉजिटिव, अब तक जिले में मिल चुके 1226 मरीज
-28वीं मौत, 198 सक्रिय मरीज, 30 से ज्यादा गंभीर
-दिन ब दिन बढ़ता जा रहा मरीजों के मिलने का औसत

खंडवा.
कोरोना संक्रमण की बढ़ती रफ्तार को रोक पाना अब मुश्किल होता दिख रहा है। लगातार बढ़ती मरीजों की संख्या के साथ ही मौत का आंकड़ा भी बढ़ता जा रहा है। सोमवार को जहां 2 मरीजों की मौत हुई है। वहीं, सोमवार देर रात आई रिपोर्ट में 9 नए मरीज भी पॉजिटिव पाए गए। जिले में कुल मरीजों की संख्या अब 1226 हो गई है। वहीं, कोरोना से अब तक 28 मौत भी हो चुकी है। जिले में अब 198 सक्रिय मरीज बाकी बचे हैं, जिसमें से 30 की स्थिति गंभीर होने से कोविड आयसोलेशन वार्ड में रखा गया है।
सोमवार रात को कोविड अस्पताल के आयसोलेशन वार्ड में भर्ती पुलिसकर्मी कदीर खान की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई। ये जिले में कोरोना से 28वीं मौत है। वहीं, इस माह छह मौत अब तक हो चुकी है। हालांकि कोविड वार्ड में भर्ती खिरकिया और खरगोन निवासी दो मरीजों की भी कोरोना से मौत हुई है, लेकिन अन्य जिलों के होने से उनकी संख्या संबंधित जिले में जोड़ी गई है। वहीं, सोमवार देर रात मेडिकल कॉलेज से आई रिपोर्ट में 9 मरीज पॉजिटिव पाए गए। जिसमें जैन मंदिर के पास के 2 मरीज, ग्राम झुमरखाली, पड़ावा, रामगंज, पटवारी मोहल्ला खालवा, कजलियां खेड़ी और ग्राम अहमदपुर के एक-एक मरीज शामिल हैं। वहीं मंगलवार को 16 मरीजों को ठीक होने पर कोविड वार्ड से डिस्चार्ज किया गया। जिले में ठीक होकर घर वापसी करने वाले मरीजों का भी आंकड़ा एक हजार पार करते हुए 1002 हो गया है।
सौ से ज्यादा मरीज होम आयसोलेशन में
जिले में कुल 1226 मरीज हो चुके है, जिसमें से 1002 की छुट्टी, 28 की मौत और 198 सक्रिय मरीज है। इसमें से 28 मरीजों की स्थिति गंभीर होने के कारण डीसीएच आयासोलेनश वार्ड में रखा गया है इसमें दो मरीज वेंटिलेटर पर बताए जा रहे हैं। वहीं, हलके लक्षण वाले 32 मरीज डीसीएचसी में भर्ती है। इनमें भी कई मरीजों को समय समय पर ऑक्सीजन लगाई जा रही है। बिना लक्षण वाले 12 मरीज ट्रिपल सी में भर्ती है। बिना लक्षण वाले सौ से ज्यादा मरीजों को होम आयसोलेट किया गया है। जिला महामारी अधिकारी योगेश शर्मा ने बताया कि इन मरीजों की रोजाना जांच विशेषज्ञों द्वारा घर जाकर की जा रही है। किसी भी मरीज को परेशानी होने पर कोविड वार्ड में भर्ती कराया जाएगा।

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned