scriptJainism : Ladoo offered in Jain temples on the day of salvation | मुनिसुव्रतनाथ भगवान के मोक्ष दिवस पर जैन मंदिरों में चढ़ा लाडू | Patrika News

मुनिसुव्रतनाथ भगवान के मोक्ष दिवस पर जैन मंदिरों में चढ़ा लाडू

जैन धर्म में जन्म से ज्यादा मोक्ष को महत्व दिया गया है। इसलिए जैन धर्मावलंबी चौबीसों तीर्थंकरों के मोक्षकल्याणक दिवस को उत्साह से मनाकर लाडू चढ़ाते है नवकार नगर में आचार्यश्री के सानिध्य में मानस्तंभ की प्रतिमाओं का हुआ अभिषेक

खंडवा

Updated: February 27, 2022 10:33:16 pm

खंडवा. जैन धर्म में जन्म से ज्यादा मोक्ष को महत्व दिया गया है। इसलिए जैन धर्मावलंबी चौबीसों तीर्थंकरों के मोक्षकल्याणक दिवस को उत्साह से मनाकर लाडू चढ़ाते है। समाज के सचिव सुनील जैन ने बताया कि फाल्गुन मास की द्वादशी के दिन हजारों वर्ष पूर्व झारखंड प्रांत में स्थित सम्मेदशिखर जी की पवित्र निर्जर कूट से तप और तपस्या करते हुए मुनिसुव्रतनाथ भगवान ने मोक्ष गति प्राप्त की थी।
Ladoo offered in Jain temples on the day of salvation of Lord Munisuvratnath
Ladoo offered in Jain temples on the day of salvation of Lord Munisuvratnath
मोक्षकल्याणक महोत्सव मनाया गया

नगर के सभी दिगंबर जैन मंदिरों में मुनिसुव्रतनाथ भगवान के मोक्ष कल्याणक दिवस पर भगवान का पूजन, अभिषेक व शांतिधारा के पश्चात श्रद्धालुओं द्वारा लाडू चढ़ाया गया। वहीं नवकार नगर स्थित मुनिसुव्रतनाथ दिगम्बर जैन मन्दिर के वार्षिकोत्सव कार्यक्रम में आचार्य श्रीधर्मभूषण सागर महाराज के सानिध्य में मुनिसुव्रतनाथ भगवान का मोक्षकल्याणक महोत्सव मनाया गया। इस अवसर पर मंडल विधान की पूजा श्रद्धालुओं द्वारा की गई। जिसमें बड़ी संख्या में पुरुष श्वेत और महिलाएं केसरिया साड़ी में उपस्थित हुई।
दौलतराम जैन परिवार को प्राप्त हुआ

कार्यक्रम में प्रथम कलश करने का अवसर महेंद्र बैनाड़ा, तुभ्यम पंकज छाबड़ा, दौलतराम जैन, भानुकुमार सेठी परिवार को प्राप्त हुआ। शांतिधारा का सौभाग्य तरुण अनिल लुहाडिय़ा, अध्यात्म प्रदीप जैन, विपुल राजेन्द्र छाबड़ा, सौधर्म इंद्र सुरेश जैन परिवार को मिला। साथ ही वर्ष में एक बार होने वाले मानस्तम्भ पर विराजमान प्रतिमाओं का अभिषेक करने का सौभाग्य सुभाष सुमित, सुलभ सेठी, पवन गदिया, दौलतराम जैन परिवार को प्राप्त हुआ।
नवकार जैन महिला मंडल के सहयोग से हुआ

भगवान मुनिसुव्रतनाथ को लाडू समर्पित करने का पुण्य अवसर राजेश, राकेश, जितेश गंगवाल परिवार और अशोक, अजय, विशाल पाटनी परिवार को प्राप्त हुआ। पूजा विधान के सौभाग्यशाली परिवार सुरेश जैन परिवार के सहयोग से संपन्न हुआ। प्रसाद वितरण के पुण्यशाली नवकार जैन महिला मंडल के सहयोग से हुआ।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

किसी भी महीने की इन तीन तारीखों में जन्मे बच्चे होते हैं बेहद शार्प माइंड, लाइफ में करते हैं बड़ा कामपैदाइशी भाग्यशाली माने जाते हैं इन 3 राशियों के बच्चे, पिता की बदल देते हैं तकदीरइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथ7 दिनों तक मीन राशि में साथ रहेंगे मंगल-शुक्र, इन राशियों के लोगों पर जमकर बरसेगी मां लक्ष्मी की कृपादो माह में शुरू होने वाला है जयपुर में एक और टर्मिनल रेलवे स्टेशन, कई ट्रेनें वहीं से होंगी शुरूपटवारी, गिरदावर और तहसीलदार कान खोलकर सुनले बदमाशी करोगे तो सस्पेंड करके यही टांग कर जाएंगेआम आदमी को राहत, अब सिर्फ कमर्शियल वाहनों को ही देना पड़ेगा टोल15 जून तक इन 3 राशि वालों के लिए बना रहेगा 'राज योग', सूर्य सी चमकेगी किस्मत!

बड़ी खबरें

Bharatpur Road Accident: भीषण सड़क हादसे में 5 लोगों की मौत, मचा हाहाकारLPG Price Hike Today: घरेलू गैस की कीमत 3.50 रुपए बढ़े, कमर्शियल सिलेंडर पर 8 रुपए का इजाफापोर्नोग्राफी मामले में व्यवसायी राज कुंद्रा के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का भी मामला दर्जज्ञानवापी मस्जिद मुद्दे पर राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का पहला बयान, केंद्रीय मंत्री भी बोलेज्ञानवापी मामले को लेकर अखिलेश यादव ने हिंदू देवी-देवताओं पर की विवादित टिप्पणीअमरीकी शेयर बाजार धड़ाम, मंदी की आशंका के बीच दो साल की सबसे बड़ी गिरावटIPL 2022 LSG vs KKR : डिकॉक-राहुल के तूफान में उड़ा केकेआर, कोलकाता को रोमांचक मुकाबले में 2 रनों से हरायानोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.