खंडवा-अमुल्लाखुर्द रेलखंड 2022 तक होगा पूरा

खंडवा-अकोला रेल लाइन गेज कंवर्शन ने गति पकड़ ली है। मीटरगेज से ब्राडगेज में तब्दील हो रही इस रेल लाइन में खंडवा-अमुल्लाखुर्द 54 किमी की रेल लाइन का अर्थवर्क का काम शुरू हो चुका है।

By: harinath dwivedi

Published: 09 Apr 2021, 10:16 AM IST

खंडवा. खंडवा-अकोला रेल लाइन गेज कंवर्शन ने गति पकड़ ली है। मीटरगेज से ब्राडगेज में तब्दील हो रही इस रेल लाइन में खंडवा-अमुल्लाखुर्द 54 किमी की रेल लाइन का अर्थवर्क का काम शुरू हो चुका है। रेल अफसरों की माने तो 2022 तक इस रेलखंड पर रेल लाइन का काम पूरा हो जाएगा। इस प्रोजेक्ट को लेकर गुरुवार को दक्षिण मध्य रेलवे के कंस्ट्रक्शन विभाग के डिप्टी चीफ इंजीनियर अकोला शिवराम खंडवा आए और रेलखंड पर चल रहे काम का निरीक्षण किया। इस दौरान जेडआरयूसीसी सदस्य मनोज सोनी और जनमंच के चन्द्र कुमार सांड ने डिप्टी चीफ़ इंजीनियर से मुलकाल तक प्रोजेक्ट को लेकर जानकारी ली। डिप्टी चीफ इंजीनियर शिवराम ने बताया की बस स्टैंड के आगे से अमुल्लाखुर्द तक गेज परिवर्तन कार्य तेजी से पूरा किया जा रहा है। वर्तमान में अर्थ वर्क, पुल-पुलियाओं का काम किया जा रहा है। इसके बाद पटरियां बिछाने का काम किया जाएगा। संभवत 2022 तक खंडवा से अमुल्लाखुर्द तक ब्रॉडगेज कार्य पूरा कर लिया जाएगा। अभी खंडवा से अमुल्लाखुर्द के बीच पडऩे वाले स्टेशनों पर एक ही प्लेटफॉर्म बनाया जाएगा।
नहीं बनी सहमति
जानकारी के अनुसार अमुल्लाखुर्द से अकोट के बीच रेल विभाग और महाराष्ट्र सरकार के बीच सहमति नहीं बनी है। इसलिए इस रेलखंड पर अभी तक काम शुरू नहीं हुआ है। जबकि दक्षिण मध्य रेलवे ने अकोट से अकोला काम पूरा कर लिया है। यहां सीआरएस भी हो चुका है। अमुल्लाखुर्द-अकोट रेल खंड का काम पूरा होने पर खंडवा-अकोला रेलखंड पूरा हो जाएगा।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned