दुर्गा विसर्जन जुलूस में तीन को चाकुओं से गोदा, मौत के बाद मच गई अफरातफरी

दुर्गा विसर्जन जुलूस में तीन को चाकुओं से गोदा, मौत के बाद मच गई अफरातफरी
Khandwa Durga Visarjan Juloos Attack News

deepak deewan | Updated: 09 Oct 2019, 08:24:27 PM (IST) Khandwa, Khandwa, Madhya Pradesh, India

तीन को चाकुओं से गोदा

खंडवा. बुधवार को शहर में बड़ी वारदात हो गई। दुर्गा विसर्जन के लिए जा रहे जुलूस में चाकूबाजी हुई जिसमें तीन युवकों को चाकू मारे गए। एक युवक की दर्दनाक मौत हो गई जबकि दो बुरी तरह घायल हो गए। इस घटना के बाद अफरातफरी मच गई।

घंटाघर चौक के पास की वारदात, उपचार के दौरान युवक ने तोड़ा दम
ग्यारस पर्व पर शहर में सुबह से दुर्गा विसर्जन जुलूस निकल रहा था। इसमें नाचने की बात पर युवकों के बीच विवाद हो गया। विवाद इतना बढ़ा कि जमकर चाकू चले। चाकू लगने से तीन युवक गंभीर घायल हुए। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां एक युवक ने दमतोड़ दिया। बुधवार शाम करीब 4.50 बजे इंदिरा चौक की माता का जुलूस घंटाघर पहुंचा। इसमें शामिल कुछ युवकों में बजरंग चौक की गली के पास नाचने की बात पर विवाद हो गया। देखते ही देखते विवाद बढ़ा और पाइप से मारपीट शुरू हुई। तभी कुछ युवक ने चाकू से हमला कर दिया। चाकू लगने से मनीष पिता दिलीप कनाड़े (20) निवासी कंचन नगर गंभीर घायल हुआ। वहीं विकास पिता विजय (19) निवासी सर्वोदय कॉलोनी और गौरव पाठक (19) निवासी वार्को सिटी को हाथ में चाकू लगने से घायल हुए। विवाद होते देख पुलिस मौके पर पहुंची और भीड़ को खदेड़ा। घायलों को अस्पताल लेकर पहुंची। अस्पताल में मनीष कनाड़े की मौत हो गई। घटनाक्रम की खबर लगते ही अस्पताल में युवाओं की भीड़ जमा होने लगी। जिसे देखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से अस्पताल परिसर में पुलिस बल तैनात किया गया।

इधर, घटनाक्रम के बाद कोतवाली पुलिस ने घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी कैमरे खंगाले और संदिग्ध युवकों की धरपकड़ शुरू की। देर रात तक तीन युवक को पुलिस थाने लेकर पहुंची। जिनसे पूछताछ की जा रही है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned