विजय दशमी के दिन हत्या करने वाले आरोपियों की पुलिस ने लाठी से सड़क पर उतारी 'हीरोगिरी', दो किमी तक यूं रहे चीखते

विजय दशमी के दिन हत्या करने वाले आरोपियों की पुलिस ने लाठी से सड़क पर उतारी 'हीरोगिरी', दो किमी तक यूं रहे चीखते

Muneshwar Kumar | Updated: 11 Oct 2019, 03:06:14 PM (IST) Khandwa, Khandwa, Madhya Pradesh, India

रास्ते में लोग बोले- यही हैं हत्या करने वाले

खंडवा/ दुर्गा विसर्जन जुलूस के दौरान चाकू मारकर हत्या करने वाले चार आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों की हीरोगिरी उतारने के लिए पुलिस ने सड़क पर इनका दो किलोमीटर तक परेड निकाला। इस दौरान आरोपियों को पुलिस लाठी से पीटती रही। आरोपी पुलिस की लाठी पड़ते ही चीख-चिल्ला रहे थे। वहीं, मृतक युवक की मां भी इन आरोपियों को देखने आई थी कि किसने मेरे बेटे को मारा है।

खंडवा के घंटाघर चौक पर इन आरोपियों ने एक युवक की चाकू से गोदकर हत्या की थी। पूछताछ में आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। वारदात में शामिल भाजपा युवा मोर्चा का नगर उपाध्यक्ष आरोपी बादल शर्मा फरार है। जिसकी तलाश की जा रही है। गुरुवार को पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ कर वारदात में उपयोग हुआ चाकू बरामद कर लिया।


परेड के दौरान लोगों की थी भीड़
इन आरोपियों की परेड निकाल पुलिस इनकी हिरोगिरी उतार रही थी। पुलिस इन्हें लोगों के सामने सड़क पर पीट रही थी ताकि इनका कोई खौफ शहर के लोगों में न रहे। इस दौरान ये रोते और गिड़गिड़ाते रहे। लेकिन पुलिस ने इनकी हेकड़ी निकालने पर तुली थी। करीब दो किलोमीटर तक इन आरोपियों का जुलूस निकाला गया। उसके बाद पुलिस ने इन सभी लोगों को जेल भेज दिया।

03_1.png

ये हैं आरोपी
पुलिस ने चार को गिरफ्तार किया है। आरोपी अज्जू जायसवाल ने विवाद के दौरान घायल गौरव और विकास पर चाकू से हमला किया। पवन केसनिया ने विवाद में घंटाघर चौक पर मनीष की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। आरोपी राहुल मेहरा मृतक और घायल के पीछे से पकड़कर रख, दूसरे आरोपी मारपीट करते रहे। वहीं आरोपी मोनू रायकवार हत्या की वारदात में उपयोग चाकू को घर ले जाकर छिपाकर रख लिया था।

04.png

तीन को भेजा जेल, एक आरोपी रिमांड पर
पुलिस ने आरोपियों को न्यायालय में पेश किया। कोर्ट ने मुख्य आरोपी पवन केसनिया, राहुल मेहरा और चाकू छिपाने वाला आरोपी मोनू रायकवार को जेल भेजा है। वहीं आरोपी अज्जू उर्फ तरुण जायसवाल निवासी बाहेती कॉलोनी को एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेजा। रिमांड के दौरान पुलिस आरोपी अज्जू से वारदात में उपयोग हुआ दूसरा चाकू बरामद करेगी।

06.png

रास्ते में लोग बोले- यही हैं हत्या करने वाले
भारी पुलिस बल के साथ आरोपियों को देखने पूरे रास्ते में लोग जमा हुए। इस दौरान बस स्टैंड से टैगोर पार्क तक कई स्थानों पर जाम की स्थिति बनी। लोगों ने जैसे ही आरोपियों को देखा तो बोले यही हैं हत्या करने वाले। ऐसे लोगों के साथ ऐसा ही होना चाहिए। कोर्ट भी आरोपियों को जल्द सजा सुनाए। इधर, पूरे रास्ते आरोपी राहुल मेहरा रोता रहा। पुलिस ने सबक सिखाया तो कोई सडक़ पर बैठ गया तो कोई चिल्लाने लगा।

05.png

यह था पूरा घटनाक्रम
बुधवार शाम करीब 4.50 बजे घंटाघर से दुर्गा विसर्जन जुलूस निकल रहा था। इसी दौरान युवकों के बीच नाचने की बात को लेकर विवाद हुआ। विवाद में आरोपी पवन ने मृतक मनीष कनाड़े की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी। वहीं गौरव पाठक और विकास जायसवाल चाकू लगने से घायल हुए थे। जिनका उपचार जिला अस्पताल में चला रहा है। दोनों खतरे से बाहर है। कार्रवाई के दौरान सीएसपी ललित गठरे, एसआई चंद्रशेखर काड़े, प्रधानारक्षक हिफाजल अली, आरक्षक, अमर यादव, आकाश बामने, सुनील सेंगर, अनिल बछाने आदि मौजूद थे।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned