सीजन का पहला मावठा गिरा, ओलावृष्टि के बाद अब बढ़ेगी ठिठुरन

पश्चिम विक्षोभ के असर से हुई बारिश से सड़कों पर बह निकला पानी

 

खंडवा. पश्चिमी विक्षोभ का असर मौसम पर देखने को मिल रहा है। गुरुवार को अंधड और ओलावृष्टि के साथ सीजन का पहला मावठा गिरा। अचानक मौसम में बदलाव से ठंड बढ़ गई। शहर में तड़के चार बजे हल्की बूंदाबांदी हुई। दोपहर में धूप-छांव का दौर चला। शाम 4.30 बजे दस मिनट की बारिश से सड़कों पर पानी बह निकला। शहर में भी चने के आकार के ओले गिरे। बिजली पोल गिरने और लाइन में फॉल्ट होने से आधे शहर में बिजली सप्लाय बंद रही। हवा चलने से गणेश तलाई में धीरज कुशवाह के घर पर पेड़ गिर गया। छैगांवमाखन में पेड़ धराशाही होने से ग्रामीण मार्गों पर यातायात प्रभावित हुआ। किसानों के अनुसार ओलावृष्टि से गेहूं की फसल और प्याज को नुकसान हुआ।

लाइन में फाल्ट, चार घंटे बंद रही बिजली
बारिश के दौरान चली हवा-आंधी से बिजली लाइन में फॉल्ट हुए। सिहाड़ा रोड स्थित पॉलीटेक्निक कॉलेज के पास बिजली पोल गिर गया। शाम करीब 5 बजे बंद हुई बिजली रात करीब 9 बजे चालू हो सकी। कुछ क्षेत्रों में बिजली कंपनी सुधार कार्य करती रही। इस दौरान सिविल लाइन क्षेत्र, रामनगर, कोहेफिजा कॉलोनी, लालचौकी, मनोरमा कॉलोनी, खानशाहवली क्षेत्र सहित अन्य हिस्सों में चार घंटों से अधिक बिजली बंद रही। लोगों ने कंपनी कार्यालय में शिकायत नंबर पर फोन लगाए, लेकिन किसी का फोन नहीं रिसीव किया तो किसी को जवाब नहीं मिला।
मौसम वैज्ञानिक पीसी साहा के अनुसार पश्चिम विक्षोभ के असर के चलते बारिश हुई है। इसके असर से आगामी तीन दिनों तक आसमान में बादल छाए रहने की संभावना है। इस दौरान दिन और रात के तापमान में गिरावट आएगी। साथ ही सुबह से कोहरे का असर बढ़ेगा। 14 दिसंबर से कड़ाके की सर्दी का दौर शुरू होने की संभावना है। गुरुवार को अधिकतम तापमान 30.5 डिग्री और न्यूनतम पारा 16.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वातावरण में आद्र्रता 78 फीसदी रही।

सीजन का पहला मावठा गिरा, ओलावृष्टि के बाद अब बढ़ेगी ठिठुरन
Riyaz sagar IMAGE CREDIT: Riyaz sagar
riyaz sagar Photographer
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned