scriptwar of words between BJP mla and Police in kota | विधायक बोलीं- नशे में थे पुलिसकर्मी, पुलिस ने कहा- झूठ बोल रहीं हैं | Patrika News

विधायक बोलीं- नशे में थे पुलिसकर्मी, पुलिस ने कहा- झूठ बोल रहीं हैं

कोटा की रामगंज मंडी विधयाक चंद्रकांता मेघवाल ने आरके पुरम थानेे के पुलिस कर्मियों पर नशे में धुत्त होकर काम करने का आरोप लगाया। हालांकि पुलिस अफसरों ने विधायक के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है।

कोटा

Published: May 26, 2016 02:57:09 pm

आरकेपुरम थाना क्षेत्र में महिला पार्षद के घर में कथित तौर पर घुसकर अभद्रता व मारपीट के मामले में बुधवार को तूल पकड़ लिया। कार्यकर्ता के पक्ष में मंगलवार रात एक बजे थाने पहुंचीं रामगंजमंडी विधायक ने थाने के पुलिसकर्मियों के नशे में होने का आरोप लगाया है। 

war of words between BJP mla and Police in kota
war of words between BJP mla and Police in kota
वहीं, एसपी सिटी सवाई सिंह गोदारा ने कहा कि विधायक के आरोप झूठे हैं। उन्होंने मुझे रात में फोन किया था, लेकिन सिर्फ अपने कार्यकर्ता से अभद्रता करने वाले आरोपियों के खिलाफ एफआईआर न दर्ज होने की शिकायत की थी।

गौरतलब है कि मंगलवार देर रात आरकेपुरम थाना इलाके में महिला पार्षद से कुछ लोगों ने अभद्रता की थी। विधायक को कार्यकर्ता से अभद्रता से शिकायत मिली तो वे थाने पहुंच गईं। उन्होंने थाने में आरोपियों खिलाफ एफआईआर दर्ज करने और उनकी गिरफ्तारी की मांग की। कार्रवाई में देरी होने पर विधायक और उनके समर्थक नाराज हो गए और देर रात तक थाने में डटे रहे।

 इस बीच, बुधवार को विधायक मेघवाल ने आरोप लगाया कि जब वे थाने गईं तो वहां पुलिसकर्मी नशे में चूर थे। विधायक ने कहा, उन्होंने रात में ही एसपी को फोन करके आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज करने की बात कही और यह बताया कि थाने में पुलिसकर्मी नशे में हैं, इनका मेडिकल कराना चाहिए, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। विधायक ने कहा कि उन्होंने रात 11.55 बजे और करीब 12.08 बजे एसपी को फोन किया था।

बात हुई, लेकिन एफआईआर दर्ज न करने की शिकायत
इस बीच, विधायक के आरोप को पुलिस अधिकारियों ने सिरे से खारिज कर दिया। पुलिस का कहना है कि विधायक के आरोप झूठे हैं। एसपी गोदरा ने कहा कि विधायक से रात में मेरी फोन पर ४-५ बार बात हुई। उन्होंने सिर्फ एफआईआर दर्ज न होने की शिकायत की थी। इस पर मैंने तत्काल संबंधित थानाधिकारी को नियमानुसार कार्रवाई करने के आदेश दिए थे। 

किसी के नशे में होने की कोई शिकायत उन्होंने नहीं की। अगर वे एेसा आरोप लगा रही हैं तो यह गलत है। वहीं, आरके पुरम थानाधिकारी जयप्रकाश बेनीवाल ने कहा कि मैं पूरे समय थाने में ही मौजूद था। कोई भी पुलिसकर्मी नशे में नहीं था। यह आरोप गलत है। एेसे आरोप लगाना अच्छी बात नहीं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.