किल कोरोना-2... पुलिस के जिम्मे कोरोना संक्रमण की रोकथाम

-अब रहेगा क्राउड कंट्रोल, सोशल डिस्टेंस, मास्क अनिवार्य पर विशेष ध्यान
-पहले चरण में सैंपलिंग, सर्वे का नहीं निकला था कोई नतीजा

खंडवा.
कोरोना संक्रमण की रफ्तार को रोकने की जिम्मेदारी अब पुलिस विभाग को सौंपी गई है। 1 से 14 अगस्त तक चलने वाले किल कोरोना-2 अभियान में गृह विभाग को नोडल बनाया गया है। पहले चरण में स्वास्थ्य विभाग अभियान का नोडल था, लेकिन कोरोना संक्रमण को रोकने में नाकाम रहा। अब पुलिस विभाग कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए क्राउड कंट्रोल मैनेजमेंट, सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क अनिवार्य पर विशेष ध्यान दे रही है।
मप्र शासन द्वारा 1 से 15 जुलाई तक किल कोरोना अभियान चलाया गया था। जिसकी जिम्मेदारी स्वास्थ्य विभाग को सौंपी थी। 15 दिवसीय अभियान में स्वास्थ्य दल 2.89 लाख घरों तक पहुंचे और 13.72 लाख लोगों का सर्वे किया, लेकिन सिर्फ 2392 संदिग्ध ही ढूंढ पाए, जो कि सर्वे किए गए लोगों की संख्या का 0.17 प्रतिशत रहा। जुलाई में सबसे ज्यादा मरीज कोरोना के सामने आए है। जिसके बाद मप्र शासन द्वारा किल कोरोना अभिया-2 की जिम्मेदारी प्रदेश स्तर पर गृह विभाग को दी गई है। अभियान की थीम संकल्प की चेन जोड़ो-संक्रमण की चेन तोड़ो है। इसके साथ ही एक मास्क-अनेक जिंदगी और रोको-टोको के तहत भी अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस विभाग द्वारा कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए कार्रवाई भी आरंभ कर दी गई है। साथ ही नगरीय विकास, पंचायत एवं ग्रामीण विकास, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा भी जागरुकता अभियान, नुक्कड़ नाटक आदि का आयोजन आरंभ कर दिया गया है।
इन कार्यक्रमों पर रहेगा प्रतिबंध
जन-प्रतिनिधियों द्वारा सार्वजनिक दौरा कार्यक्रम नहीं किए जाएंगे।
-विकास कार्यों के शिलान्यास, भूमि-पूजन एवं लोकार्पण आदि आयोजन प्रतिबंधित रहेंगे।
-ये कार्यक्रम वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से सोशल डिस्टेंसिंग के मापदंडों का पालन करते हुए कर सकते हैं।
-सभी प्रकार की राजनैतिक रैलियों का आयोजन भी पूरी तरह प्रतिबंधित रहेगा।
-जन-प्रतिनिधि गण अपने क्षेत्र में ऑनलाइन वर्चुअल रैलियों का आयोजन कर सकते हैं।
-जो नियमों का पालन नहीं करेगा, उनके विरुद्ध जुर्माने तथा अन्य विधिक कार्रवाई की जाएगी।
लगातार कर रहे कार्रवाई
किल कोरोना अभियान के तहत सैक्टर मोबाइल पार्टी शहर में तैनात की गई हैं। सोशल डिस्टेंस, बगैर मास्क लगाने वालों के खिलाफ कार्रवाई जा रही है। दुकानों पर भीड़भाड़ लगाने वालों पर भी कार्रवाई जारी है।
ललित गठरे, सीएसपी

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned