निजी अस्पतालों में तो दूर मेडिकल कॉलेज अस्पताल ने नहीं ली है फायर एनओसी

नगर निगम ने अग्निशमन सुरक्षा ओर लिफ्ट सेफ्टी को लेकर शहर के निजी अस्पतालों सहित मेडिकल कॉलेज अस्पताल को एनओसी के लिए नोटिस जारी किया है।

By: harinath dwivedi

Published: 20 May 2021, 11:17 AM IST

खंडवा. नगर निगम ने अग्निशमन सुरक्षा ओर लिफ्ट सेफ्टी को लेकर शहर के निजी अस्पतालों सहित मेडिकल कॉलेज अस्पताल को एनओसी के लिए नोटिस जारी किया है। प्रदेश सरकार के निर्देश पर हुई जांच के बाद निजी अस्पतालों और मेडिकल कॉलेज अस्पताल में फायर/लिफ्ट सेफ्टी को लेकर कई खामियां पाई गई है। जिसके बाद मंगलवार को निगम के अधीक्षण यंत्री द्वारा फायर प्लान स्वीकृति और लिफ्ट सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए नोटिस जारी किया है।
राज्य शासन द्वारा अस्पतालों में सुरक्षा व्यवस्थाओं को लेकर फायर एनओसी, फायर ऑडिट, लिफ्ट ऑडिट के लिए नगरीय विकास एवं आवास विभाग भोपाल द्वारा जांच के निर्देश जारी किए गए थे। जिसके तहत खंडवा शहर में भी १० से १५ मई के बीच फायर इंजीनियर, निगम उपयंत्री मेकेनिकल द्वारा निजी अस्पतालों सहित जिला अस्पताल, मेडिकल कॉलेज अस्पताल में सर्वे किया गया था। सर्वे में राज्य शासन के निर्धारित सुरक्षा बिंदुओं के आधार पर शासकीय, निजी अस्पतालों मे फायर और लिफ्ट सुरक्षा में कई कमियां पाई गई थी। जिसके बाद नगर निगम द्वारा इन सभी अस्पतालों को फायर/लिफ्ट सेफ्टी के लिए एनओसी लेने के लिए नोटिस जारी किया गया है।
नगर निगम अधीक्षण यंत्री कैलाश चौधरी ने बताया कि सुरक्षा मानक के १५ बिंदुओं पर निजी अस्पताल जिसमें प्रकाश नर्सिंग होम, मिश्रा हॉस्पिटल, नवोदय हॉस्पिटल, सोनी हॉस्पिटल, जैन नर्सिंग होम, श्रीमाली हॉस्पिटल, संत रिचर्ड पंपुरी हॉस्पिटल, जेजे हॉस्पिटल, गुर्जर हॉस्पिटल, हिंदूजा हॉस्पिटल में जांच की गई है। इन सभी को फायर इंजीनियर, लिफ्ट इंजीनियर से फायर प्लान, लिफ्ट सुरक्षा प्लान बनाकर एनओसी प्राप्त कर उपकरणों की स्थापना करना होगी। साथ ही फायर/लिफ्ट सुरक्षा के लिए एक नोडल अधिकारी नियुक्त कर नगर निगम को उसका नाम और नंबर भी उपलब्ध कराना होगा, ताकि समय समय पर फायर/लिफ्ट सुरक्षा ऑडिट कार्रवाई हो सके।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned