नेवी के सब लेफ्टिनेंट की पत्नी की ट्रेन में मौत, 3 घंटे प्लेटफॉर्म पर रखा रहा शव

नेवी के सब लेफ्टिनेंट की पत्नी की ट्रेन में मौत, 3 घंटे प्लेटफॉर्म पर रखा रहा शव
The husband of the deceased, sitting in wait for the doctor for the PM.

Jitendra Tiwari | Updated: 18 May 2017, 11:59:00 PM (IST) khandwa

मुंबई इलाज कराने जा रहे नेवी के सेवानिवृत्त सब लेफ्टिनेंट की पत्नी की गुरुवार को ट्रेन में सफर के दौरान मौत हो गई। शव को खंडवा स्टेशन पर उतारा गया। सूचना पर जीआरपी मौके पर पहुंची।

खंडवा. मध्यप्रदेश के खंडवा जिले में भुसावल मंडल के खंडवा जंक्शन पर मुंबई इलाज कराने जा रहे नेवी के सेवानिवृत्त सब लेफ्टिनेंट की पत्नी की गुरुवार को ट्रेन में सफर के दौरान मौत हो गई। शव को खंडवा स्टेशन पर उतारा गया। सूचना पर जीआरपी मौके पर पहुंची। यहां कागजी कार्रवाई करते चलते करीब 3 घंटे तक शव प्लेटफॉर्म पर ही रखा रहा। जानकारी के अनुसार नेवी के सेवानिवृत्त सब लेफ्टिनेंट ललन प्रसाद शाह निवासी छपरा सुविधा एसी एक्सप्रेस के कोच बी-4 में पत्नी चंपादेवी शाह (59) और बेटे मनोज प्रसाद के साथ पटना स्टेशन से मुंबई का सफर कर रहे थे। इसी दौरान पत्नी चंपादेवी की हरदा और खंडवा के बीच मौत हो गई। उन्होंने मामले की खबर टीटीई को दी। सूचना पर सुबह करीब 11 बजे गाड़ी स्टेशन पहुंचने पर शव को उतारा गया। यहां जीआरपी ने कागजी कार्रवाई शुरू की। कार्रवाई के दौरान दोपहर करीब 2.30 बजे तक शव प्लेटफॉर्म पर रखा रहा। दोपहर करीब 3 बजे शव अस्पताल पहुंचाया गया। जहां पीएम करने में डॉक्टर की लेटलतीफी के चलते परिजन परेशान होते रहे।
Read More:हथियारों के दम पर ढाई साल की बच्ची को बनाया बंधक, लाखों की लूट
पति बोले-दवाई देकर सुलाया था, फिर नहीं उठी
पति ललन शाह ने बताया कि बुधवार को पटना स्टेशन से सफर शुरू किया था। इसी दौरान रास्ते में शाम करीब 7.30 बजे खाना खाया और दवा खिलाकर उसे सुला दिया था। वहीं मैं और बेटा मनोज भी सो गए। सुबह हम सोकर उठ गए, लेकिन चंपा नहीं उठी। कुछ देर इंतजार किया। करीब 10.30 बजे उसे उठाया तो पता चला वो नहीं रही। उसे वर्ष 1990 से डायबिटीज की बीमारी थी। धीरे-धीरे बीमारी बढ़ती गई और किडऩी में संक्रमण फैल गया। इलाज कराने ही मुंबई जा रहे थे, लेकिन भगवान को कुछ ओर ही मंजूर था।
Read More:पांच हजार रुपए में स्कूल बैग में डिलीवर करते थे हथियार
Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned