खंडवा के लिए राहत की खबर, 11 लोगों की रिपोर्ट आई नेगिटिव

-अब तक भेजे कुल 48 सैंपल में से 14 लोगों में नहीं मिले कोरोना के लक्षण
-मंगलवार को 16 लोगों के लिए सैंपल, 28 सैंपल जांच के लिए भेजे लैब
-अस्पताल में लगातार हो रही स्क्रीनिंग, गांवों में बाहर से आने वालों की जांच
-कोरोना की ड्यूटी में लगे डॉक्टर ने अस्पताल में मनाया जन्मदिन

खंडवा.
कोरोना वायरस के संक्रमण से जहां आसपास के जिलों में लगातार लोगों के संक्रमित होने की खबर आ रही है। वहीं, खंडवा जिला अभी तक कोरोना के कहर से बचा हुआ है। मंगलवार को कोरोना वायरस के 11 संदिगों की जांच रिपोर्ट नेगिटिव आई है। अब तक जिले में भेजे गए कुल 48 सैंपल में से 14 की रिपोर्ट नेगिटिव आने से जिले में कोई भी पॉजीटिव नहीं मिला है। वहीं, सोमवार को स्वास्थ्य विभाग द्वारा 16 लोगों के सैंपल कोरोना की जांच के लिए गए है। वहीं, सोमवार को लिए गए 28 सैंपल को जांच के लिए लैब भेजा है।
जिले में प्रशासन द्वारा लॉक डाउन का सख्ती से पालन कराने और बाहर से आने वालों की लगातार जांच किए जाने से कोरोना के प्रकोप से जिला बचा हुआ है। मंगलवार तक जिले में कुल 20479 लोगों की स्क्रीनिंग अन्य जिलों से आने पर की गई है। मंगलवार को कुल 1462 लोगों की स्क्रीनिंग हुई है। जिसमें से 16 के जांच सैंपल लिए गए है। वहीं, सुलगांव में 22 लोगों को, पुनासा में 9 लोगों को, ओंकारेश्वर में एक व्यक्ति को क्वारेंटाइन वार्ड में भर्ती कराया गया है। साथ ही सौ से अधिक लोगों को मंगलवार होम क्वारेंटाइन में रहने की सलाह दी गई है। एक मरीज जिला अस्पताल के आयसोलेशन वार्ड में भर्ती है। वहीं, एक मरीज को अस्पताल के क्वारेंटाइन वार्ड में रखा गया है। सीएमएचसओ डॉ. डीएस चौहान ने बताया कि अब तक जिले में एक भी पॉजीटिव नहीं मिला है। अब तक भेजे गए 48 जांच सैंपल में से 14 की रिपोर्ट नेगिटिव आई है। 34 लोगों की जांच रिपोर्ट आना बाकी है।
अस्पताल में मनाया डॉक्टर ने जन्मदिन
कोरोना वायरस को लेकर स्वास्थ्य विभाग की पूरी टीम लगातार काम कर रही है। ऐसे में डॉक्टर्स सहित स्टाफ भी अपने निजी जीवन के सामाजिक कार्यों को छोड़कर मरीजों की सेवा में लगे हुए है। कोरोना जांच के लिए बनाई गई आरआर टीम के डॉ. पंकज जैन ने मंगलवार को अपना जन्मदिन घर पर मनाने के बजाए अस्पताल में मनाया। हालांकि उनके जन्मदिन की किसी को खबर नहीं थी। आरआर टीम के डॉ. योगेश शर्मा को जब इस बात का पता लगा तो उन्होंने सीएमएचओ डॉ. डीएस चौहान, सिविल सर्जन डॉ. ओपी जुगतावत, आरएमओ डॉ. शक्तिसिंह राठौर को जानकारी दी। सिविल सर्जन डॉ. जुगतावत ने अपने घर से मिठाई बुलाकर डॉ. पंकज जैन को खिलाई। उल्लेखनीय है कि आरआर टीम में होने से पूरी टीम सहित डॉ. पंकज जैन भी सुबह 7 बजे से रात 9 बजे तक बाहर से आने वाले मरीजों की जांच और क्वारेंटाइन में रह रहे लोगों की जांच में लगे हुए है।

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned