नहीं चुकाया कर्ज तो छिन जाएगी संपत्ति

-सहकारी बैंक पुनासा की चार शाखाओं के बकायादारों की होगी संपत्ति कुर्क
-जिला सहकारी केंद्रीय बैंक ने दी बकायादारों को चेतावनी, 29 तक जमा करें ऋण

खंडवा. पुनासा तहसील क्षेत्र में जिला केंद्रीय सहकारी बैंक की 4 शाखाओं के बड़े बकायादारों पर कार्रवाई की तैयारी शुरू हो गई है। तहसीलदार पुनासा ने सहकारी बैंक की मूंदी, सुलगांव, कालमूखी व पुनासा शाखा के बकायादारों को समझाइश दी है कि वे बैंक का ऋण 29 फरवरी तक जमा करा दें, अन्यथा उनकी चल अचल संपत्ति जप्त कर कुर्की की कार्रवाई करते हुए ऋण वसूली की जाएगी।
तहसीलदार पुनासा सीमा कनेश ने बताया कि मूंदी शाखा के 5 बड़े बकायादारों में मूंदी के सुरेंद्र सिंह भीमसिंह 4.42 लाख रु., ऋतु शैलेंद्र महोदय 1.44 लाख रु., ललिता बाई बाबूलाल 1.48 लाख रु., लखनलाल शंकर 1.65 लाख रु. व लखनलाल मयाराम निवासी भादलीखेड़ा 2.85 लाख रु. शामिल है। तहसीलदार ने बताया कि केंद्रीय सहकारी बैंक की पुनासा शाखा के बड़े बकायादारों में ग्राम बेटानी के दिनेश गोपाल 5.04 लाख रु., ग्राम डांग के बलराम बोंदर 8.32 लाख रु., नंदाना के हरिप्रसाद प्रताप 3.48 लाख रु. व रामनरेश जगराम 2.38 लाख रु. तथा रामदास जयराम 8.07 लाख रु. शामिल है। इसके अलावा कालमूखी शाखा के बड़े बकायादारों में अजय राधेश्याम पर 8.59 लाख रु., मदन हजारी पर 6.95 लाख रु., राजकुमार रामलाल पर 5.67 लाख रु., कैलाश सिंह पर 4.74 लाख रु., जगदीश बाबूलाल पर 1.97 लाख रु. बकाया है। सुलगांव शाखा के बड़े बकायादारों में शिवशंकर गोपाल पर 3.87 लाख रु., राधेश्याम रामलाल पर 3.22 लाख रु., सुंदरलाल सीताराम पर 4.44 लाख रु., जितेंद्र कैलाश पर 5.83 लाख रु. तथा मुकेश मुर्रार पर 5.53 लाख रु. बकाया है।

मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned