Railway Innovation - ट्रेनों के सफर में अब महिला यात्री ज्यादा सुरक्षित

ट्रेनों में महिला यात्रियों की यात्रा को सुरक्षित बनाएगा मेरी सहेली अभियान

By: tarunendra chauhan

Updated: 29 Oct 2020, 01:57 PM IST

खंडवा. ट्रेनों में यदि महिला अकेले यात्रा कर रही हैं तो घबराने की जरूरत नहीं है। क्योंकि अब रेलवे ने अकेले यात्रा कर रही महिलाओं को सुरक्षा देने के लिए मेरी सहेली अभियान की शुरुआत की है। अभियान के तहत मध्य रेल में आरपीएफ ने 24 विशेष ट्रेनों में आरपीएफ महिला अधिकारी व जवानों को तैनान किया है, जो सफर के दौरान ट्रेनों में सफर करने वाली महिलाओं से चर्चा कर उनकी समस्या को जानेगी। साथ ही सुरक्षित यात्रा में मदद करेंगी। मेरी सहेली अभियान रेलवे सुरक्षा बल के सहयोग से चलाया जा रहा है। इस अभियान में आरपीएफ की महिला विंग की महिलाएं शामिल हैं, जो यात्रा के दौरान अकेले सफर कर रही महिलाओं से उनका हालचाल पूछेगी और उनकी सुरक्षा का पूरा ध्यान रखेंगी। इस अभियान से सफर के दौरान महिलाओं के साथ होने वाले अपराधों पर रोक लगेगी।

अब नहीं होगी परेशानी
महिला यात्रियों को अब यात्रा के दौरान किसी प्रकार की परेशानी आने पर तत्काल सहायता मिल पाएगी, जिससे यात्रा सुगम और सुखद हो पाएगी। बोगियों में मेरी सहेली महिला अधिकारी और कर्मचारियों की टीम सक्रिय रहेगी, जो महिलाओं को किसी प्रकार की समस्या आने पर तत्काल मदद के लिए पहुंचेगी। इससे प्रतिदिन यात्रा करने वाली महिलाओं को भी परेशानी से निजात मिल पाएगी।

अभियान के तहत ट्रेन में सफर करने वाली महिला यात्री को यात्रा शुरू करने वाले स्टेशन से गंतव्य स्टेशन तक सुरक्षित पहुंचाने की व्यवस्था कराएगी। आरपीएफ महिला अधिकारियों की टीम लगातार ट्रेनों की बोगियों में सक्रिय रहेगी। ट्रेन में यात्रा करने वाली महिला यात्रियों की पहचान करेगी। महिला यात्रियों के साथ बातचीत के दौरान टीम आरपीएफ सुरक्षा हेल्पलाइन नंबर 182, जीआरपी हेल्पलाइन नंबर 1512 के उपयोग के बारे में उन्हें जागरूक करेगी। वहीं सुरक्षित यात्रा करने के संबंध में समझाइश देगी।

Show More
tarunendra chauhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned