सुरक्षा नहीं तो कार्य नहीं, राजस्व अधिकारी अनिश्चितकालीन हड़ताल पर

-तहसीलदार, नायब तहसीलदारों ने सुरक्षा की मांग को लेकर दिया ज्ञापन
-मामला सतना और अनूपपुर जिले में हुए राजस्व अधिकारियों के साथ अभद्रता का

खंडवा.
सुरक्षा नहीं तो कार्य नहीं का नारा देते हुए जिले के सभी राजस्व अधिकारी सोमवार से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए है। मप्र राजस्व अधिकारी संघ के आह्वान पर पिछले दिनों सतना और अनूपपुर जिले में राजस्व अधिकारियों के साथ हुई अभद्रता को लेकर ये हड़ताल की जा रही है। सोमवार को जिले के सभी तहसीलदार, नायब तहसीलदारों ने अपनी मांगों को लेकर मुख्यमंत्री के नाम एडीएम को ज्ञापन सौंपा।
संघ जिलाध्यक्ष तहसीलदार प्रतापसिंह अगास्या ने बताया कि तहसील उचेहरा जिला सतना में नायब तहसीलदार शैलेंद्र बिहारी शर्मा पर जान लेवा हमला करने वाले नामजद आरोपी अब भी खुले घूम रहे हैं। उनकी अब तक गिरफ्तारी नहीं हुई है। वहीं, तहसील कोतमा जिला अनूपपुर में एसडीएम, तहसीलदार एवं तहसील के कर्मचारियों के साथ अभद्र व्यवहार करने वाले अभिभाषक रमेश गुप्ता पर केस भी दर्ज नहीं हुआ है। एफआइआर और उनका लायसेंस निरस्त करने के लिए मप्र बार काउंसिल जबलपुर को भी पत्र लिखकर ध्यानाकर्षण कराया गया था। दोनों मामलों में आज तक कोई कार्रवाई नहीं होने से सभी राजस्व अधिकारी आहत है और अपने आप को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं। राजस्व अधिकारियों ने दोनों मामलों में कार्रवाई नहीं होने तक कार्य से विरत रहने की बात कही है। ज्ञापन के दौरान तहसीलदार प्रतापसिंह अगास्या, स्वाति मिश्रा, नायब तहसीलदार विजय सैनानी, आशीष मिश्रा, भावना रावत, अतुलेश सिंह सहित अन्य राजस्व अधिकारी मौजूद थे।

Show More
मनीष अरोड़ा Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned