एमबीबीएस प्रथम वर्ष की परीक्षा मेंप्रदेश की प्रावीण्य सूची में रुचिका

बायोकैमिस्ट्री विषय में स्वर्ण पदक, अन्य विषयों में डिस्टिंक्शन

By: harinath dwivedi

Updated: 09 Sep 2021, 10:34 AM IST

खंडवा. कोरोना काल के चलते कक्षाएं बंद होने के बाद भी ऑन लाइन पढ़ाई के माध्यम से नंदकुमारङ्क्षसह चौहान शासकीय मेडिकल कॉलेज खंडवा के विद्यार्थियों ने एमबीबीएस प्रथम वर्ष की परीक्षा में बाजी मारी है। एनएससी मेडिकल कॉलेज की छात्रा रूचिका जोशी ने प्रदेश की टॉपर लिस्ट में अपनी जगह बनाई है। इसके साथ ही एनएससी मेडिकल कॉलेज के सभी स्टूडेंट एमबीबीएस प्रथम वर्ष की परीक्षा में प्रथम श्रेणी में पास हुए हैं। मप्र मेडिकल साइंस यूनिवर्सिटी जबलपुर द्वारा पिछले सप्ताह एमबीबीएस मुख्य परीक्षा 2019-20 के परिणाम घोषित किए है। इस परीक्षा में एनएससी शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय खंडवा की छात्रा रुचिका जोशी ने 1020 अंकों में से 799 अंक प्राप्त कर प्रावीण्य सूची में मप्र के समस्त चिकित्सा महाविद्यालयों में द्वितीय स्थान प्राप्त कर महाविद्यालय को गौरांवित किया है। रुचिका जोशी ने बायोकैमिस्ट्री विषय में स्वर्ण पदक प्राप्त किया तथा एनाटोमी और फिजियोलॉजी विषयों में विशिष्ट अंक (डिस्टिंक्शन) प्राप्त किए हैं। रूचिका जोशी की इस उपलब्धि पर मेडिकल कॉलेज डीन डॉ. अनंत पंवार सहित डॉ. नजीम सिद्दिकी और सभी विभागाध्यक्ष ने बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की है।

खंडवा से शुरू हुई थी ऑनलाइन पढ़ाई
रुचिका जोशी ने अपनी सफलता का श्रेय एनाटोमी, फिजियोलॉजी और बायोकैमिस्ट्री विभागों के सभी संकाय सदस्यों एवं लॉक डाउन के दौरान महाविद्यालय द्वारा शुरू की गई ऑनलाइन कक्षाओं को दिया हैं। उल्लेखनीय है की मप्र में ऑनलाइन कक्षाओं की शुरुआत करने का श्रेय एनएससी जीएमसी खंडवा के फिजियोलॉजी विभाग को जाता है। एनएससी मेडिकल कॉलेज खंडवा द्वारा शुरू की गई ऑन लाइन क्लासेस को यूनिवर्सिटी द्वारा प्रदेश के पूरे मेडिकल कॉलेज में शुरू कराया गया था।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned