चुनाव जीतने रुपए जमा करने पूर्व सरपंच ने जनपद सदस्य के साथ बनाया चोर गिरोह, पांच जिलों में की 25 वारदातें

वारदात में उपयोग कार सहित लूट व चोरी में गए 18 लाख रुपए कीमती सोने-चांदी के गहने व नकद बरामद, धार जिले से वारदात करने आते थे आरोपी, खरगोन जिले की 10 वारदातें और इंदौर, बड़वानी, हरदा की चोरी कबूली

खंडवा. चेकिंग के दौरान शातिर चोर गिरोह पुलिस के हत्थे चढ़ा है। पूछताछ में आरोपियों ने खंडवा में वर्ष 2018 से अब तक लूट व चोरी की दस वारदातें करना कबूल की हैं। वारदात में पुलिस ने धार जिले की ग्राम पंचायत बरखेड़ा के पूर्व सरपंच और मुख्य आरोपी लच्छु पिता केकडिय़ा अनारे को गिरफ्तार किया है। पूर्व सरपंच आगामी सरपंच का चुनाव लडऩा और जीतना चाहता था। इसलिए उसने जनपद सदस्य रामला के साथ मिलकर चोर गिरोह बनाया
और वारदातों को अंजाम देने लगा। ताकि चुनाव के लिए रुपए जमा कर सके। हालांकि अब पूर्व सरपंच सलाखों के पीछे है। वहीं जनपद सदस्य रामला फरार है। पूर्व सरपंच व जनपद सदस्य के खिलाफ मनावर व बाग थाने में चोरी व लूट के प्रकरण पहले से भी दर्ज हैं। शनिवार को मामले का खुलासा करते हुए एसपी विवेक सिंह ने बताया चेकिंग के दौरान कार (एमपी 09 सीवी 7654) में सवार युवकों पर संदेह होने पर पीछाकर तीन बदमाशों को पकड़ा। वहीं धरपकड़ के दौरान एक आरोपी मौके से भाग निकला। थाने लाकर पूछताछ की तो आरोपियों ने लूट व चोरी की वारदातें करना कबूल की। कार्रवाई के दौरान धार जिले की ग्राम पंचायत बरखेड़ा का पूर्व सरपंच मुख्य आरोपी लच्छु पिता केकडिय़ा अनारे (37) निवासी बरखेड़ा, चंदर उर्फ चमरिया पिता पातल्या भील (25), रूमाल पिता मगन मानकर (32) सभी निवासी बरखेड़ा (धार) को गिरफ्तार किया गया। वहीं आरोपियों से चोरी का माल खरीदने वाले सुनार आरोपी राजू पिता प्रहलाद सोनी (36) निवासी बाग (धार) को भी गिरफ्तार कर प्रकरण दर्ज किया है। आरोपियों की निशानदेही पर कार सहित 18 लाख रुपए कीमती सोने-चांदी के जेवरात व नकद बरामद किया गया है। वहीं वारदातों में शामिल जनपद पंचायत सदस्य आरोपी रामला निवासी बरखेड़ा और गुलाब उर्फ गोलू निवासी कोकरी धार फरार है। जिनकी तलाश की जा रही है। मामले में अन्य माल के संबंध में आरोपियों से पूछताछ कर रही है।
आरोपियों से ये सामान हुआ जब्त
शहर एएसपी सीमा अलावा ने बताया पूछताछ के दौरान आरोपियों के कब्जे से चार सोने की चेन, सात मंगलसूत्र, एक सोने की लौग, 5 अंगूठी, 4 जोड़ी टाप्स, 2 जोड़ी लटकन, 2 पेंडल, एक सोने का छल्ला, 3 जोड़ी बाली, एक बंदेल चुड़ी कुल वजनी 215 ग्राम सोना कीमती 12 लाख, 1 जोड़ी झुमकी, 5 जोड़ी चांदी के कड़े, 5 जोड़ी पायल, 2 चांदी के सिक्के, 4 जोड़ी छल्ले वजनी 2 किलो 300 ग्राम कीमती 11 हजार रुपए और 40 हजार नकद बरामद किए गए। वहीं वारदात में उपयोग कार भी जब्त की है। इस प्रकार पुलिस ने कुछ 18 लाख रुपए कीमती माल बरामद किया है।
2018 से कर रहे थे वारदातें
आरोपियों ने पूछताछ में रामनगर क्षेत्र में सिविल लाइन व रामनगर क्षेत्र में वर्ष 2018 में दो चोरी, वर्ष 2019 में दो और इस साल नारायण नगर, जसवाड़ी रोड, सिविल लाइन क्षेत्र में बैंक मैनेजर के घर सहित चार चोरी और एक लूट की वारदात कोतवाली थाने में करना कबूल की। वहीं एक चोरी मोघट थाने में की थी।

खिड़की में ग्रिल लगे मकानों को बनाते थे निशाना
सीएसपी ललित गठरे ने बताया आरोपी धार जिले से कार में सवार होकर खंडवा आते थे। यहां सुनसान कॉलोनी या खेतों के किनारे वाले ऐसे घर जिन की खिड़की में लोहे की ग्रिल लगी हो उन्हें चिहिंत करते थे। इसके बाद ढाबे पर खाना खाते और रात होने का इंतजार करते थे। रात में गाड़ी सड़क पर खड़ी कर मकान के पास पहुंचे और निगरानी करते थे। मकान के लोगों के सोने के बाद खिड़की की ग्रिल तोड़कर दुबला होने पर आरोपी जनपद सदस्य रामला को मकान में प्रवेश कराते थे और गहने व नकद लेकर फरार हो जाते थे।
खरगोन की दस और इंदौर की दो वारदातें कबूली
पूछताछ में आरोपियों ने खंडवा सहित आसपास के जिलों में वारदातें करना कबूल की है। इस दौरान खरगोन शहर में 8 चोरी, भीकनगांव और बड़वाह में एक-एक वारदातें करना कबूला। वहीं इंदौर में परदेशीपुरा व चंदन नगर में दो वारदातें की। बड़वानी जिले के सेंधवा में दो, ठिकरी में एक वारदात की। इसके अलावा हरदा सहित अन्य जिलों में 15 से अधिक चोरी व लूट की वारदातें करने की बात पूछताछ में आरोपियों ने कबूली है।
कार्रवाई टीम में ये थे शामिल
कोतवाली टीआइ बीएल मंडलोई, छैगांवमाखन थाना प्रभारी गणपत कनेल, पंधाना प्रभारी राधेश्याम मालवीया, एसआइ रामप्रकाश यादव, शुभम व्यास, रामकुमार गौतम, सुभाष नावड़े, सत्येन्द्र कुशवाहा, एएसआइ आरडी यादव, रमेश मोरे, प्रधान आरक्षक दिनेश उपाध्याय, आरक्षक अमित यादव, अमर प्रजापत, अनिल बछाने, मुन्ना बर्डे, सुनील निगवाल, धर्मेंद्र अहिरवार, बबलू, हरिप्रसाद, जितेन्द्र, सुनील, डायल-100 पायलेट सोनू आदि शामिल थे।

जितेंद्र तिवारी Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned