मुंबई से आ रही ट्रेन में कोरोना मरीज होने की सूचना, खंडवा स्टेशन पर मचा हड़कंप

मुंबई से आ रही महानगरी एक्सप्रेस का मामला, यात्री का किया चेपअप, एंबुलेंस लेकर पहुंची डॉक्टर्स की टीम

खंडवा. रेलवे स्टेशन पर उसे समय हड़कंप मच गया जब रेल स्टॉफ को फोन पर चलती ट्रेन में कोरोना मरीज होने की खबर मिली। सूचना मिलते ही तबाड़तोड़ रेल प्रबंधन ने डॉक्टर्स की टीम और एंबुलेंस परिसर में तैनात की। जैसे ही गाड़ी प्लेटफॉर्म दो पर पहुंची तो यात्री का चेकअप किया गया। मामला बुधवार सुबह करीब 10 बजे महानगरी एक्सप्रेस का है। महानगरी एक्सप्रेस के एसी कोच में एक यात्री मुंबई से वाराणसी की यात्रा कर रहा था। भुसावल से गाड़ी रवाना होने पर रास्ते में उक्त यात्री को दो बार उल्टियां हुई। उसे उल्टियां करते देख कोच में मौजूद अन्य यात्रियों को संदेह हुआ। खौफ के चलते यात्री कोच के गेट पर आकर खड़े हो गए और उक्त यात्री को कोरोना संदेही बताते हुए टीटीई को जानकारी दी। सूचना मिलते ही टीटीई ने खंडवा स्टेशन पर मामले की खबर दी। स्टेशन पर गाड़ी पहुंचते ही जीआरपी और आरपीएफ ने एसी कोच के आसपास मौजूद यात्रियों को हटाया। वहीं डॉक्टर्स बोगी में पहुंचे और यात्री को नीचे लेकर आए। उसकी जांच शुरू की गई। इसी दौरान यात्री ने बताया मैं कोरोना वायरस से संक्रमित नहीं हूं। मेरा मुंबई एयरपोर्ट पर चेकअप हो चुका है। ब्राजील से मुंबई पहुंचा था और अब वाराणसी जा रहा हूं। इधर, डॉक्टर्स की जांच में यात्री की रिपोर्ट सामान्य आई। इसके बाद डॉक्टर और रेल स्टॉफ ने राहत की सांस ली। वहीं यात्री को ट्रेन में रवाना किया। इस दौरान करीब 20 मिनट तक ट्रेन स्टेशन पर खड़ी रही।

स्टेशन पर रहा सन्नाटा, ट्रेनों में यात्री कम
कोरोना वायरस के खौफ के चलते ट्रेनों में यात्रियों की संख्या में भारी कमी आई है। महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे में कोरोना वायरस के मरीज मिलने के बाद लोग महाराष्ट्र की ओर यात्रा करने से बच रहे हैं। बुधवार को स्टेशन पर दिनभर सट्टा पसरा रहा। मुंबई की ओर जाने वाली ज्यादातर ट्रेनों में आम दिनों की अपेक्षा खाली नजर आई। इधर, टिकट काउंटर पर भी लोग टिकट बुकिंग के बजाय टिकट रद्द कराने पहुंच रहे हैं। रोजाना करीब 15 लोग यात्रा रद्द कर रहे हैं। इधर, वेंडर्स को मॉस्क वितरित किए गए। वहीं वेंडर्स सेनेटाइजर से हाथ धुलकर यात्रियों को खाद्य सामग्री दे रहे हैं।

महाराष्ट्र की यात्रा से दूरी, इंदौर की बसें भी खाली

कोरोना वायरस का मुंबई और पुणे में संक्रमण बढऩे से लोगों ने महाराष्ट्र की यात्रा करने से दूरी बना ली है। इस समय महाराष्ट्र की ओर जाने वाली बसों में इक्का-दुक्का यात्री ही सफर कर रहे हैं। खंडवा से महाराष्ट्र के धारणी, अमरावती, नागपुर के लिए करीब आठ बसों का संचालन होता है, लेकिन कोरोना के खौफ के चलते इस समय यह आठ से दस यात्री ही बसों में आवागमन कर रहे हैं। ठीक इसी तरह खंडवा से इंदौर के बीच चलने वाली बसों के हालात हैं। लोगों ने यात्राएं रद्द कर रही हैं। इस कारण इंदौर जाने वाली प्रत्येक बस में इंदौर की पांच से दस सवारी ही मिल रही हैं। इधर, बता दें इंदौर से पुणे और मुंबई चलने वाली बसों को 21 से 31 मार्च बंद करने के परिवहन विभाग ने आदेश जारी किए है।
केंद्रीय विद्यालय की परीक्षाएं स्थगित
कोरोना वायरस के चलते केंद्रीय विद्यालय ने अलग-अलग कक्षाओं की चल रही परीक्षाओं को बीच में ही स्थगित कर दिया है। उपायुक्त सोमित श्रीवास्तव ने विद्यालय की कक्षा 6वीं, 9वीं और 11वीं की 19 और 21 मार्च को होने वाली परीक्षा को स्थगित करने के आदेश जारी किए है। यह पेपर आगामी तारीखों में होंगे।

Corona virus
जितेंद्र तिवारी Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned