चारखेड़ा में शुरू हुए दो मोटर पंप, सुक्ता से भी बांट रहे पानी

शुक्रवार से चारखेड़ा फिल्टर प्लांट पर दो मोटर पंप चालू कर दिए गए है। यहां जमी गाद को हटाने के बाद तीसरे पोट तक पानी आ गया है।

By: harinath dwivedi

Updated: 03 Jul 2021, 01:07 PM IST

खंडवा. लंबे समय से जल संकट से जूझ रहे शहरवासियों को थोड़ी राहत मिली है। शुक्रवार से चारखेड़ा फिल्टर प्लांट पर दो मोटर पंप चालू कर दिए गए है। यहां जमी गाद को हटाने के बाद तीसरे पोट तक पानी आ गया है। वहीं, शहर में अन्य जल स्रोतों सहित सुक्ता से भी 24 घंटे पानी खंडवा तक पहुंचाया जा रहा है। जिससे सुक्ता की लाइन से 21 वार्डों में एक दिन की आड़ से जल प्रदाय शुरू किया गया है।
नर्मदा जल योजना के चारखेड़ा फिल्टर प्लांट पर गाद जमने से 26 दिन से शहर में पानी के लिए त्राही मची हुई थी। लगातार विरोध प्रदर्शन, आंदोलन तक शहरवासियों को करना पड़े थे। निगम अधिकारियों के हाथ से स्थिति निकलते देख कलेक्टर अनय द्विवेदी ने मोर्चा संभाला था। जिसके बाद रणनीति बनाकर शहर को जल संकट से छुटकारा दिलाने के प्रयास शुरू किए गए। भोपाल से आए तकनीकी विशेषज्ञों के दल ने भी यहां जमी गाद को हटाने के लिए सुझाव दिए थे। पोकलेन मशीन से गाद हटाने के बाद यहां से जल वितरण शुरू किया गया है।
सुक्ता से एक दिन 8, दूसरे दिन 13 वार्डों में पानी
नर्मदा जल के साथ ही जल प्रदाय का दूसरा बड़ा स्रोत सुक्ता से भी पानी देना आरंभ हो चुका है। शहर में कुल 21 वार्डों में सुक्ता का पानी सप्लाय किया जा रहा है। जिसमें एक दिन 8 वार्डों और दूसरे दिन 13 वार्डों में जल प्रदाय किया जा रहा है। उधर नागचून तालाब से भी जल प्रदाय के लिए निगम अधिकारियों द्वारा प्रयास किए जा रहे है। शुक्रवार को निगम अधिकारियों ने नागचून पहुंचकर यहां के फिल्टर प्लांट की व्यवस्थाएं भी देखी। उल्लेखनीय है कि नर्मदा जल योजना से पहले नागचून तालाब से भी शहर के कुछ वार्डों में जल प्रदाय किया जाता था।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned