scriptUnattended traffic will never improve here | यहां कभी नहीं सुधरेगा बेपटरी ट्रैफिक | Patrika News

यहां कभी नहीं सुधरेगा बेपटरी ट्रैफिक

ब्रिज के गड्ढों में फंसते रहे वाहन, तीन पुलिया, शेर चौराहा, रामेश्वर चौकी के पास लगता रहा जाम, छोटे वाहनों के बीच फंसे रहे भारी वाहन

खंडवा

Published: July 20, 2022 11:51:35 pm

खंडवा. शहर में बुधवार की दोपहर अव्यवस्था का जाम लग गया। जाम के इस झाम से निपटने के लिए वाहन चालकों ने रास्ता बदला तो वहां भी उन्हें जूझना पड़ा। ओवरब्रिज से लेकर शहर के मुख्य बाम्बे बाजार, शेर चौराहा में भी वाहन रेंगते नजर आए। हालात कुछ ऐसे बन चुके थे कि यातायात पुलिस के वश में भी कुछ नहीं रहा। करीब डेढ़ घंटे तक शहर का हर आम व्यक्ति जगह जगह जाम से परेशान होता रहा।
आफत की नो एंट्री
दोपहर एक बजे नो एंट्री में छूट मिलते ही भारी वाहनों की आवाजाही बढ़ गई। इस शहर में बाइपास नहीं है, इसलिए सभी वाहन ओवरब्रिज के रास्ते ही निकलते हैं। भारी वाहनों के साथ छोटे वाहन निकले तो बेपटरी यातायात ने जाम लगा दिया।
निगम को गड्ढे नहीं दिखते
ओवरब्रिज के हाल कैसे हैं यह सबको पता है। समय समय पर मरम्मत की जरूरत यहां होती है। लेकिन इस शहर की आदत बन चुकी है कि जब तक धरना प्रदर्शन और आवेदन, ज्ञापन ना हो जाएंग तब तक खुली आंखों से भी अफसरों को कुछ नहीं दिखाई देता।
स्कूल के बच्चे हुए परेशान
दोपहर में नो एंट्री खुली, स्कूलों की छुट्टी हुई, बारिश रुकने से वाहनों की आवाजाही बढ़ी। इससे अचानक यातायात दबाव बढ़ गया। ओवरब्रिज का रास्ता छोड़ लोगों ने तीन पुलिया की ओर रुख किया तो वहां भी जाम लगा था। इन सबके बीच स्कूल के बच्चे परेशान होते रहे।
शहर को चाहिए बाइपास
कलेक्टर ने नो एंट्री लगाकर इस शहर को कुछ हद राहत दी। लेकिन दोपहर में नो एंट्री की छूट कई बार यातायात के लिए आफत बन जाती है। लंबे अर्से से यह शहर बाइपास मांग रहा है। लेकिन निजी हित की जनप्रतिनिधि जनता की समस्या को हल नहीं कर सके। जबकि अदने से उच्च स्तर तक सत्ता पक्ष के नेता बैठे हैं।
गड्ढों में रोपे बेशरम के पौधे
बरसात में शहर की सड़कों की सूरत बदल गई। हर बार की तरह इस बार भी खंडवा की आवाज मंच से जुड़े लोगों ने प्रदर्शन किया है। फिर से सड़क के गड्ढों में बेशरम के पौधे रोपे गए हैं। रामेश्वर रोड पर यह प्रदर्शन किया गया है। यह बताने की कोशिश की गई है कि शहर सरकार की प्रयास जनहित में नाकाफी हैं। सड़कों को सुधार की जरूरत है, ताकि सुगम यातायात इस शहर को मिल सके।
Unattended traffic will never improve here
Unattended traffic will never improve here

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

BJP के नए संसदीय बोर्ड और चुनाव समिति का गठन, गडकरी व शिवराज की छुट्टी, देखिए कौन-कौन नेता शामिलकिडनैंपिग के आरोपी हैं बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह, सरेंडर वाले दिन ही ली शपथ, नीतीश बोले-मुझे जानकारी नहींदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने लॉन्च किया ‘मेक इंडिया नंबर-1’ कैंपेन, पूछा - आजादी के 75 वर्ष बाद भी हम बाकी देशों से पीछे क्यों?सुप्रीम कोर्ट ने 'रेवड़ी कल्चर' के खिलाफ सभी पक्षों से मांगे सुझाव, 22 अगस्त तक दिया वक्तशिवमोगा तनाव पर कर्नाटक BJP नेता केएस ईश्वरप्पा का विवादित बयान- मुस्लिम यहां शांति से रहे या पाकिस्तान चले जाएंMumbai News: मुंबई में डेंगू, मलेरिया और Swine Flu का तांडव जारी, 7 महीने के भीतर स्वाइन फ्लू से 43 लोगों की मौतICC ने जारी किया '2023-27 FTP' का पूरा कार्यक्रम, देखिए टीम इंडिया का पूरा शेड्यूलकेरल कोर्टः यौन उत्पीड़न की शिकायत पहली नजर में नहीं टिकेगी, जब महिला ने 'यौन उत्तेजक' पोशाक पहनी हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.