Weather update: निसर्ग के असर से प्री-मानसून में बरसे मेघ, अब मानसून की दस्तक के बाद रूठे

प्री-मानसून में खंडवा में हुई 222 मिमी बारिश, मानसून आने के बाद अब तक सिर्फ 62 मिमी हुई वर्षा

खंडवा. जिले में इस वर्ष समय से मानसून की दस्तक के बाद भी किसानों को बारिश का (Weather update) इंतजार बना हुआ है। बादल रूठने से बारिश नहीं हो रही है। इससे खेतों में लगी फसलों के बीज खराब होने का खतरा बना हुआ है। स्थिति यह है कि प्री-मानसून में मेघों ने जिले को खूब भिगोया। 1 जून से बारिश का सीजन शुरू होता है। इस दौरान प्री-मानसून की अवधि में 2 जून को निसर्ग के असर से जिले में झमाझम बारिश हुई। इस प्रकार प्री-मानसून के दौरान खंडवा में 222 मिमी यानी 8.22 इंच बारिश दर्ज की गई। 15 जून को जिले में मानसून ने दस्तक दी। शुरुआती दो दिनों में बारिश हुई। मानसून आने के बाद 29 जून तक खंडवा में महज 62 मिमी यानी 2.12 इंच बारिश दर्ज की गई है। इस प्रकार खंडवा में अब तक 284 मिमी बारिश हो चुकी है। इससे जून माह का तो कोटा पूरा हो गया, लेकिन अच्छी पैदावार के लिए फसलों को अब भी बारिश का इंतजार बना हुआ है।
दोपहर में उमड़े घने काले बादल से छाया शाम सा अंधेरा
मौसम में रोजाना बदलाव देखने को मिल रहे हैं। सोमवार को सुबह से ही आसमान में बादल छाए रहे। इस कारण वातावरण में उमस रही। गर्मी से लोगों के हाल बेहाल रहे। दोपहर 2 बजे अचानक मौसम ने करवट बदली और आसमान में काले घने बादलों ने डेरा जमा लिया। करीब एक घंटे तक बादल आसमान में उमड़ते रहे, लेकिन हवाओं के कारण बगैर बरसे ही निकल गए। काले बादलों के कारण दोपहर के समय शाम सा अंधेरा शहर में छा गया, लेकिन बारिश होने की लोगों की उम्मीदों पर पानी फिर गया। सोमवार को शहर का अधिकतम तापमान 35.1 डिग्री और न्यूनतम पारा 23.4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। वहीं वातावरण में आद्र्रता 78 फीसदी और हवाएं तीन किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से चलीं। मौसम विभाग के अनुसार सिस्टम नहीं बनने के कारण बारिश पर ब्रेक लगा है। आगामी दो दिनों में खंडवा में गरज-चमक के साथ बारिश की संभावना है।

जितेंद्र तिवारी Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned