महेश्वर में 18 किलोग्राम वजनी सोने का झूला

कलेक्टर-एसपी ने किया निरीक्षण, झूले सहित अन्य आभूषणों की वीडियोग्राफी के आदेश
खासगी ट्रस्ट संपत्तियों के आधिपत्य का मामला

By: tarunendra chauhan

Published: 16 Oct 2020, 11:38 AM IST

खरगोन. हाईकोर्ट के आदेश के बाद नगर में खासगी ट्रस्ट की 101 संपत्तियों पर शासन ने आधिपत्य ले लिया है। गुरुवार को खरगोन कलेक्टर अनुग्रहा पी और एसपी शैलेन्द्र चौहान महेश्वर पहुंचे। उन्होंने एसडीएम संघप्रिय से अब तक की कार्रवाई की जानकारी ली। कलेक्टर ने निरीक्षण की शुरुआत राजवाड़ा स्थित राजगादी से की। पूजन कक्ष में साढ़े 18 किलो वजनी 9.25 करोड़ के सोने का झूला और 50 से अधिक चांदी के शिव मुखौटे एवं आभूषणों की वीडियोग्राफी और फोटोग्राफी के निर्देश दिए। चर्चा है कि राजवाड़ा के नवरत्न हार की भी जांच हो सकती है।

किराएदार का अब भी पहरा
एक ओर शासन खासगी संपत्तियों पर आधिपत्य लेने की बात कह रहा है तो दूसरी ओर किला स्थित होटल पर अब भी किराएदार का पहरा है। बता दें कि कलेक्टर जब किला स्थित होटल में निरीक्षण के लिए गईं तो किराएदार यशवंत राव होलकर ने कलेक्टर का वेलकम किया। इस दौरान मीडिया को यह कहकर गेट पर रोक दिय गया कि ये हमारे गेस्ट हैं।

कर्मचारियों पर निर्णय जांच के बाद
आमजनों के लिए राजवाड़ा गेट जल्द खोला जाएगा। कलेक्टर ने बताया, खासगी ट्रस्ट में काम करने वाले लोगों के भविष्य एवं सैलरी पर निर्णय जांच के बाद होगा।

खासगी की 101 संपत्ति को हाईकोर्ट के आदेश पर शासन ने आधिपत्य में लिया है। इसमें 42 लैंडमार्क संपत्तियां हैं। बाकी संपत्तियां निर्माणाधीन हैं, जिनका निरीक्षण किया है।
अनुग्रह पी, कलेक्टर

Show More
tarunendra chauhan Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned