script32 children found involved in begging | पढ़ाई छोड़ सड़कों पर पन्नियां बिनने वाल बच्चे पढ़ेंगे प्रायवेट स्कूलों में, नहीं लगेगा कोई शुल्क | Patrika News

पढ़ाई छोड़ सड़कों पर पन्नियां बिनने वाल बच्चे पढ़ेंगे प्रायवेट स्कूलों में, नहीं लगेगा कोई शुल्क

-भीक्षावृत्ति में लिप्त मिले 32 बच्चे, 19 को पहले स्कूल में कराया प्रवेश, पांच की और तैयारी
-स्ट्रीट चिल्ड्रन्स जो स्कूल नहीं जाते उनको 12वीं तक निशुल्क मिलेगी शिक्षा, कलेक्टर ने बच्चों से की मुलाकात, पहनाई माला कहा- मन लगाकर पढऩा

खरगोन

Published: May 07, 2022 09:05:43 am

खरगोन.
सड़कों पर घुमकर पन्नियां बिनने वाले व भीक्षावृत्ति में लिप्त बच्चे अब प्रायवेट स्कूलों में पढ़ाई करेंगे। सामान्य परिवारों के बच्चों की तरह ड्रेस, टाई और जूते पहनकर स्कूल जाएंगे। गर्मी के दिनों में इनके लिए समर कैंप भी लगेगा। इंग्लिश टीचर कोचिंग देंगे। तंगी की हालत में स्कूल तक नहीं पहुंचने इन बच्चों की पढ़ाई का खर्च प्रशासन उठाएगा। इसकी शुरुआत हो चुकी है।
करीब तीन माह पूर्व फरवरी में कलेक्टर अनुग्रहा पी. ने उन बच्चों का सर्वे कराया था जो शहर में घुमकर या तो पन्नी बिनने हैं या भीक्षावृत्ति में लिप्त है। इसके चक्कर में वह पढ़ाई भी नहीं कर पाए। सर्वे में ३२ बच्चे चिन्हित किए गए। उनके दस्तावेज बनाए गए। १९ बच्चों को तभी स्कूलों में प्रवेश दिलाया गया। पांच बच्चों को अब आगामी सत्र में प्रायवेट स्कूलों में प्रवेश मिलेगा। चिन्हित बच्चों से शुक्रवार कलेक्टर अनुग्रहा पी. ने मुलाकात की। उन्हें स्कूल डे्रस, किताबें, जूते आदि जरूरी सामान दिया। बच्चों से चर्चा की और कहा-खूब मन लगाकर पढ़ाई करना। आपकी १२वीं तक की निशुल्क शिक्षा प्रशासन की ओर से पूरी होगी।
32 children found involved in begging
खरगोन. अब तक स्कूल से दूर रहे ५ बच्चों से कलेक्टर ने की चर्चा। अब प्रायवेट स्कूलों में पढ़ेंगे।
स्कीम के तहत तय होगा भविष्य
कलेक्टर ने विभिन्न विभागों, अभिभावकों, शिक्षकों और बच्चों के साथ कलेक्टर चेम्बर में चर्चा की। महिला एवं बाल विकास विभाग की स्पांसरशिप स्कीम के तहत अब इनके भविष्य का रास्ता तय होगा। कलेक्टर ने अभिभावकों से कहा बच्चों को पढऩे दें। स्कूल जाने दें। आप लोगों को कोई पैसा खर्च नहीं करना पड़ेगा। शासन अपने स्तर से पढ़ाएगा।
सभी निजी स्कूलों में इंग्लिश मीडियम की करेंगे पढ़ाई
कलेक्टर ने इन बच्चों का भविष्य संवारने के लिए इंग्लिश मीडियम में दाखला कराया है। इसके लिए सर्व शिक्षा अभियान के समन्वयक केके डोंगरे को निर्देश दिए कि अभी गर्मी में इन 5 बच्चों के लिए विशेष समर कैम्प लगाओ। इंग्लिश शिक्षक को नियुक्त करने के निर्देश दिए। महिला बाल विकास विभाग के कार्यक्रम अधिकारी रत्ना शर्मा ने बताया राखी को गोगांवा की शांति विद्या निकेतन हायर सेकेंडरी स्कूल में कक्षा 4 में, गंगा, रोशनी और गीता को सेंट मेरी कान्वेंट स्कूल में कक्षा 1 में तथा अजय को मुलठान की उड़ान सेवन हैबिट्स फाउंडेशन में कक्षा 3 में प्रवेश दिया गया है। इन पांच बच्चों के नाम बदलें हुए हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Sharad Pawar Controversial Post: अभिनेत्री केतकी चितले ने लगाए गंभीर आरोप, कहा- हिरासत के दौरान मेरे सीने पर मारा गया, छेड़खानी की गईकांग्रेस पार्टी ने जेपी नड्डा को BJP नेता द्वारा राहुल गांधी से जुड़ी वीडियो शेयर करने पर लिखी चिट्ठी, कहा - 'मांगे माफी, वरना करेंगे कानूनी कार्रवाई'Mumbai News Live Updates: शिवसेना के बागी विधायकों के साथ गोवा से मुंबई पहुंचे सीएम एकनाथ शिंदे, कहा- फ्लोर टेस्ट सिर्फ एक औपचारिकता हैIND vs ENG, 5th Test Match Day 2 Live Updates: बारिश की वजह से खेल दोबारा रुका, इंग्लैंड 3 विकेट के नुकसान पर 60 रनों परआईएमडी ने जताई अगले 48 घंटों के लिए चेन्नई में बारिश की संभावनासमुद्र के फैलाव से भूकम्प के झटके....पिछले 25 वर्ष में 10 फीसदी बढ़े... द. कन्नड़ जिले में पिछले 200 साल में 150 से अधिक भूकम्प आएMaharashtra Politics: फडणवीस को डिप्टी सीएम बनने वाला पहला CM कहने पर शरद पवार की पूर्व सांसद ने ली चुटकी, कहा- अजित पवार तो कभी...Udaipur Killing: आरोपियों के मोबाइल व सोशल मीडिया का डाटा एटीएस के लिए महत्वपूर्ण, कई संदिग्धों पर यूपी एटीएस का पहरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.