script45 crore wheat left unclaimed to rot | Exclusive-45 करोड़ का गेहूं सडऩे के लिए छोड़ा लावारिस | Patrika News

Exclusive-45 करोड़ का गेहूं सडऩे के लिए छोड़ा लावारिस

जागो सरकार...ओपन कैंप में रखा 23 हजार मीट्रिक टन गेहूं, बारिश, ठंड और धूप लगने से हो रहा खराब, अनाज में लगी घून और कीड़े, लोगों के घरों तक पहुंच रहे

खरगोन

Published: March 27, 2022 11:05:21 am

खरगोन.
प्रदेश सरकार एक तरफ गेहूं के विदेशों में निर्यात को लेकर योजना बना रही है, तो दूसरी ओर दूसरी ओर किसानों से खरीदे अनाज का कोई मौल नजर नहीं आया। शायद यही कारण है कि करोड़ों की कीमत वाले गेहूं को खुले में सडऩे के लिए लावारिस छोड़ रखा है। वह भी पिछले 18 महीनों से। सुनने में यह आश्चर्य लगे, लेकिन खरगोन जिला मुख्यालय से 18 किमी दूर ऊन में खंडवा-बड़ौदा राजमार्ग किनारे ओपन कैंप में 23 हजार मीट्रिक टन गेहूं लावारिस हालत में पड़ा है। अलग-अलग मौसम में बारिश, ठंड और धूप में यह गेहूं बरसाती ढककर पटक रखा है। हाल ही में राशन दुकानों पर सीहोर जिले से खराब गेहंू बुलाने के बाद उसे बांटने का काम अफसरों द्वारा बाले-बाले किया जा रहा था। खरगोन विधायक रवि जोशी ने पहुंचकर खराब गेहूं को बांटने से रोका। ऐसे में शासन-प्रशासन को ऊन के पास खुले में रखा अनाज क्यों नहीं दिखाई देता। विधायक रवि जोशी ने आरोप लगाया कि सरकार करोड़ों के गेहंू को सड़ाकर बिचौलियों को सस्ते में बेचना चाहती है। वहीं दूसरी ओर गरीब अनाज के तरस रहे हैं।
45 crore wheat left unclaimed to rot
खुले में रखा गेहूं
45 करोड़ खरीदी पर खर्च हुए थे

सूत्रों की मानें तो ऊन में रखा गेहूं धार और अन्य जिलों से परिवहन लाया गया था, जो 2020 से खुले में रखा हुआ है, जो लगभग 23 हजार मीट्रिक टन हैं। जिसकी खरीदी के बदले सरकार ने 45 करोड़ रुपए खर्च किए थे। लेकिन अब इस अनाज को सडऩे के लिए छोड़ दिया है। बता दे पत्रिका द्वारा कई खबरों के माध्यम से खराब हो रहे गेंहू के बारे में शासन-प्रशासन को बताया गया था लेकिन अभी जिम्मेदारों उनके कानों पर जूं नही रेंगी।

अनाज में लगे कीड़े, बस्ती में लोगों के घर पहुंच रहे
पिछले साल भोपाल से आए विभागीय दल ओपन कैंप में स्टोर कर रखे अनाज का निरीक्षण किया था। जिसमें घून और कीड़े लगने की बात सामने आई थीं। जिस पर कीटनाशक का छिड़काव भी किया गया था। लेकिन कीड़ों की समस्या खत्म नहीं हुई। यह अब सुबह और शाम को बस्ती में लोगों के घरों में घुस रहे। रहवासी मोहन वर्मा, लल्लू नहाल, जितेंद्र वर्मा, अखिलेश वर्मा ने बताया गेंहू में सड़क के कारण बदबू आती है। साथ ही कीड़ों की समस्या से परेशान है। रोजाना खाना खाते और सोते समय कीड़े आने से दिक्कतें होती है। मेन रोड होने से दुपहिया वाहन निकलते समय भी आंखों में कीड़े घुसते है।

बिचौलियों को लाभ
सरकार खरीदी कर गेहूं को सालों तक स्टॉक कर पटक रखती है। ऊन में भी यही हो रहा है। अनाज सडऩे से करोड़ों रुपए का नुकसान हो सकता है। जिससे जरूरतमंद गरीबों का पेट भी भर जाए। बिचौलियों लाभ देने के लिए सरकार गेहूं को औने-पौने दामों पर बेचना चाहती है।
रवि जोशी, विधायक खरगोन

हम प्रयास कर रहे

ओपन कैंप में रखे अनाज के उठाव के लिए लगातार विभागीय पत्राचार किया जा रहा है। प्रयास हो रहे हैं। शासन को भी चिंता है। जल्द ही कोई रास्ता निकलेगा।
श्वेतासिंह, जिला विपणन अधिकारी खरगोन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: वडोदरा में आधी रात को देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात, सुबह पहुंचे गुवाहाटीMaharashtra Political Crisis: शिंदे गुट के दीपक केसरक का बड़ा बयान, कहा- हमें डिसक्वालीफिकेशन की दी जा रही हैं धमकीMaharashtra Politics Crisis: शिवसेना की कार्यकारिणी बैठक खत्म, जानें कौन-कौन से प्रस्ताव हुए पारितTeesta Setalvad detained: तीस्ता सीतलवाड़ को गुजरात ATS ने लिया हिरासत में, विदेशी फंडिंग पर होगी पूछताछकर्नाटक में पुजारियों ने मंदिर के नाम पर बनाई फर्जी वेबसाइट, ठगे 20 करोड़ रुपएAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैMaharashtra Political Crisis: वडोदरा में देवेंद्र फडणवीस और एकनाथ शिंदे के बीच हुई थी मुलाकात- रिपोर्ट'अग्निपथ' के विरोध में तेलंगाना के सिकंदराबाद में ट्रेन में आग लगाने वालों की वायरल हो रही वीडियो, पुलिस ने पहचान कर किया गिरफ्तार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.