हमारा शहर विकास नहीं कर रहा.. पीएम साहब इसे गोद ले लीजिए ..9वीं की छात्रा ने लिखा पत्र

हमारा शहर विकास नहीं कर रहा.. पीएम साहब इसे गोद ले लीजिए ..9वीं की छात्रा ने लिखा पत्र
narendra Modi

Hemant Jat | Publish: Aug, 13 2017 03:18:00 AM (IST) Khargone, Madhya Pradesh, India

मध्यप्रदेश के खरगोन की ९वीं कक्षा की छात्रा धडक़न जैन ने लिखा पीएम मोदी को पत्र.. विधायक -सांसद ढंग से काम नहीं कर रहे, आप हमारा शहर गोद ले लीजिए 

अफसर-कर्मचारियों को ट्रेनिंग देने का उल्लेख कर शहर को स्मार्ट बनाने की मांग की

खरगोन. मध्यप्रदेश के खरगोन की 9वीं कक्षा की छात्रा ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर शहर गोद लेने की मांग की है। उसने लिखा है कि यहां विकास नहीं हो पा रहा है.. अगर आप इसे गोद ले लेंगे तो शहर का विकास हो सकता है.. उसने प्रधानमंत्री को लिखी चिट्ठी में अफसर और अन्य कर्मचारियों को ट्रेनिंग की आवश्यकता भी जताई है.. चिट्ठी में उसने लिखा है कि आदरणीय प्रधानमंत्री जी.. जबसे आपने देश की बागड़ोर संभाली, सरकार बहुत अच्छा काम कर रही हैं। परंतु हमारे शहर खरगोन में विधायक बालकृष्ण पाटीदार, सांसद सुभाष पटेल, नगरपालिका अध्यक्ष विपिन गौर और मध्यप्रदेश सरकार ढंग से काम नहीं कर रही हैं।... कृपया आप शासन के सभी क्लास-1 ऑफिसर और नेताओं को अपने पास बुलाकर उनको प्रशिक्षण दें, या हमारे शहर को एक साल के लिए गोद ले लीजिए... मासूमियत भरे लफ्जों के साथ यह बड़ी बातें शहर की 9वीं कक्षा की छात्रा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को भेजे पत्र में लिखी। 

शहर के गांवशिंदे नगर की रहने वाली धड़कन जैन ने 4 अगस्त को स्पीड पोस्ट के जरिए यह पत्र प्रधानमंत्री को भेजा है। धड़कन के पिता आशीर्वाद जैन ने बताया कि उनकी बेटी ने शहर में लोगों को मूलभूत सुविधाओं से जूझते देख यह कदम बढ़ाया। अब उसे पीएम के जवाब का इंतजार हैं।

 

अच्छे अफसरों को शहर की कमान सौंपें

धड़कन ने अपने पत्र में शहर की कमान अच्छे अफसरों के हाथों में सौंपने की बात लिखी। उसने बताया कि शहर में एक्सट्रा आर्डिनरी और यंग एक्सट्रा विजन ऑफिसर्स भेजने का उल्लेख किया। धड़कन ने इस पत्र में शहर की 28 परेशानियां बताई। उसने शहर को स्मार्ट सीटी बनाने के लिए रिंग रोड और बॉयपास की सौगात देने और उद्योग लगाकर लोगों को रोजगार देने की बात भी बताई।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned