गीता सुन हुआ आत्मबोध और पश्चिमी संस्कृति छोड़ हिंदू बना विदेशी जोड़ा, मंदिर में की शादी

अमेरिका के होप न्यू जर्सी के रोनाल्ड मेडियो और न्यू बर्ग की एलेक्जेंडर उर्फ आली ने गोपालपुरा स्थित इस्कॉन मंदिर में हिंदू रीति-रिवाज से की शादी

By: Muneshwar Kumar

Published: 08 Mar 2020, 04:10 PM IST

खरगोन/ गीता ज्ञान का भंडार है। कहा जाता है कि जिंदगी के सार को समझना है तो हर व्यक्ति को एक बार गीता जरूर पढ़ना चाहिए। गीता सुनने के बाद अमेरिकी कपल का आत्मबोध हुआ। उसके बाद पश्चिमी संस्कृति को छोड़कर वह हिंदू बन गया। इसके बाद दोनों ने हिंदू रीति-रिवाज से ही शादी की। अग्नि को साक्षी मानकर दोनों ने मंदिर में सात फेरे लिए।

अमेरिका के होप न्यू जर्सी निवासी रोनाल्ड मेडियो और न्यू बर्ग की एलेक्जेंडर उर्फ आली पर श्रीकृष्ण भक्ति का ऐसा रंग चढ़ा कि दोनों ने गीता सुनकर हिंदू धर्म अपना लिया। उसके बाद कान्हा की भक्ति में दोनों लीन हो गए। साथ ही गीता का महत्व भी लोगों को बताने लगे थे। दोनों के बीच इस दौरान पहले से अफेयर भी था। अफेयर के बाद दोनों शादी करने का फैसला लिया।

3_2.jpg

हिंदू रीति-रिवाज से की शादी
उसके बाद दोनों यह फैसला किया हिंदू रीति-रिवाज से शादी करेंगे। उसके बाद देश छोड़कर सात समंदर पार भारत पहुंच गए। भारत आने के बाद रोनाल्ड मेडियो और एलेक्जेंडर मध्यप्रदेश के खरगोन पहुंची। उसके बाद इस कपल ने शादी की तैयारी शुरू की। खरगोन जिला मुख्यालय से करीब छह किलोमीटर दूर ग्राम गोपालपुरा स्थित इस्कॉन मंदिर में शादी कार्यक्रम का आयोजन किया है।


सात फेरे लिए
हिंदू रीति-रिवाज से शादी होने पर कई रस्म निभाई जाती है। रोनाल्ड और एलेक्जेंडर ने भी शादी के दौरान हर पारंपरिक रस्मों का पालन किया। मंत्रोच्चार के बीच दोनों की शादी हुई। इस दौरान अग्नि को साक्षी मानकर दोनों सात फेरे लिए। रोनाल्ड और एलेक्जेंडर हिंदू रीति-रिवाज से शादी कर काफी खुश नजर आए। शादी की चर्चा पूरे जिले में है।

2_5.jpg

लोगों की उमड़ी भीड़
जिले में पहली बार कोई विदेशी कपल हिंदू रीति-रिवाज से शादी कर रहा था। इसलिए इसकी चर्चा भी जोरों पर थी। शादी देखने के लिए आसपास के इलाकों से सैकड़ों लोग इस्कॉन मंदिर में पहुंचे थे जो इस शादी समारोह के गवाह बने। बताया जा रहा है कि इस विवाह समारोह में कई विदेशी मेहमानों ने भी शिरकत की। विदेशियों ने देसी परिधान पहनकर सारी रस्में निभाईं।

Show More
Muneshwar Kumar
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned