scriptboard of directors removed 441 members | संचालक मंडल व इंदौर की कंपनी ने ऐसी की करतूत कि जांच देख अफसर भी रह गए दंग, 13 पर एफआईआर | Patrika News

संचालक मंडल व इंदौर की कंपनी ने ऐसी की करतूत कि जांच देख अफसर भी रह गए दंग, 13 पर एफआईआर

-1976 में बनी गृह निर्माण समिति, संचालक मंडल ने 441 सदस्यों को हटाया, इंदौर की कंपनी से मिलकर हड़पी जमीन, 13 पर केस
-मामला गृह निर्माण समिति की करियामाल व सिरलाय की भूमि का, गृह निर्माण संस्था के संचालक और प्रालि. संस्था के संचालकों द्वारा षड्यंत्रपूर्वक 7 हेक्टेयर भूमि हड़पी, हुई कार्रवाई

खरगोन

Updated: June 16, 2022 09:53:31 am

खरगोन.
करोड़ों की बेशकिमती जमीन पर नजर गढ़ाए बैठे कुछ लोगों ने मिलकर 441 लोगों को धोखा दिया। जिला प्रशासन ने जमीन हड़पने के मामले में बड़वाह थाना क्षेत्र में बुधवार को बड़ी कार्रवाई की। मामला कर्मचारी विकास गृह निर्माण सहकारी संस्था बड़वाह से जुड़ा हुआ है। दरअसल यहां संस्था की जमीन को संचालक मंडल व इंदौर की एक कंपनी ने षड्यंत्र पूर्वक हड़पा। मामले में उपायुक्त सहकारिता जिला खरगोन के निर्देश पर सहकारी निरीक्षक एवं समिति के प्रशासक सोहन सिंह कल्याण सिंह चौहान ने तत्कालीन संचालक मंडल और रेवा रियोज बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड इंदौर के संचालकों पर एफआईआर दर्ज कराई है।
जानकारी के मुताबिक यह मामला गृह निर्माण समिति की करियामाल और सिरलाय की भूमि से जुड़ा है। डीआरसीएस विनोद कुमार ने बताया कर्मचारी विकास गृह निर्माण समिति की भूमि सर्वे क्रमांक 16/1 में 8.610 हेक्टेयर एवं सर्वे क्रमांक 248 रकबा 0.081 हेक्टेयर कुल भूमि 8.691 हेक्टेयर अर्थात 21.47 एकड़ है। इस में से 6.740 हेक्टेयर भूमि पर संचालक मंडल ने रेवा रियोज बिल्डकॉन प्रायवेट लिमिटेड इंदौर के साथ मिलकर षड्यंत्रपूर्वक और सदस्यों को भूखंड से वंचित कर दिया। विकास के नाम पर रेवा रिओज बिल्डकॉन लिमिटेड इंदौर द्वारा भूमि हड़प ली गई है। डीआरसीएस ने बताया संचालक मंडल ने जरूरी सरकारी अनुमतियां भी नहीं ली। विधिवत प्रक्रिया का पालन नहीं करते हुए बिना अवैधानिक अनुबंध विलेख निष्पादित किया। कार्य आदेश जारी किया है।
board of directors removed 441 members
षड्यंत्रपूर्वक 7 हेक्टेयर भूमि हड़पी
यह है पूरा मामला
डीईआरसीएस विनोद कुमार सिंह ने बताया वर्ष 1976 में शासकीय, अर्धशासकीय और अन्य कर्मचारियों की पंजीकृत सहकारी संस्था बनाई। इसका उद्देश्य सदस्यों को विकसित भूखंड उपलब्ध कराना था। संस्था द्वारा 441 सदस्य बनाए गए। वर्ष 1989-99 में पहले 109 और फिर 2020-21 में 100 सदस्यों को एकसाथ निष्कासित कर दिया। इसके अलावा अलग-अलग समय पर कई सदस्यों को अवैधानिक ढंग से निष्कासित किया गया। निष्कासन से पूर्व मप्र सहकारी सोसायटी अधिनियम के प्रावधानों एवं प्रक्रिया का पालन तक नहीं हुआ। विकासकर्ता कंपनी रेवा रिओज बिल्डकॉन प्राइवेट लिमिटेड इंदौर को भूमि का अंतरण करने से पूर्व आयुक्त सहकारिता एवं पंजीयक सहकारी संस्थाएं मध्य प्रदेश से अनुमति प्राप्त नहीं की गई।
इन 13 लोगों पर एफआईआर दर्ज
डीआरसीएस कुमार ने बताया विभिन्न धाराओं के तहत बड़वाह थाने में एफआईआर दर्ज कराई है। इस मामले में ओमप्रकाश शर्मा, उपाध्यक्ष सुरजीत भाटिया, प्रबंधक रमेश जोशी अन्य संचालक मंडल के सदस्य बनारसी लाल अरोरा, वीणा जोशी, बालकृष्ण राशिनकर, गोपाल कृष्ण खंडेलवाल, गोरेलाल देशवाली, नर्मदा प्रसाद शर्मा, भगवानसिंह घोसले, आलोक महाजन, दीपक गोपाल गरुड़ और रविन्द्र दिनकर कासरेकर पर प्रकरण दर्ज कराया है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

महाराष्ट्र की राजनीति में बड़ा उलटफेर: एकनाथ शिंदे ने ली मुख्यमंत्री पद की शपथ, देवेंद्र फडणवीस बने डिप्टी सीएमMaharashtra Politics: बीजेपी ने मौका मिलने के बावजूद एकनाथ शिंदे को क्यों बनाया सीएम? फडणवीस को सत्ता से दूर रखने की वजह कहीं ये तो नहीं!भारत के खिलाफ टेस्ट मैच से पहले इंग्लैंड को मिला नया कप्तान, दिग्गज को मिली बड़ी जिम्मेदारीAgnipath Scheme: अग्निपथ स्कीम के खिलाफ प्रस्ताव पारित करने वाला पहला राज्य बना पंजाब, कांग्रेस व अकाली दल ने भी किया समर्थनPresidential Election 2022: लालू प्रसाद यादव भी लड़ेंगे राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव! जानिए क्या है पूरा मामलाMumbai News Live Updates: शरद पवार ने किया बड़ा दावा- फडणवीस डिप्टी सीएम बनकर नहीं थे खुश, लेकिन RSS से होने के नाते आदेश मानाUdaipur Murder: आरोपियों को लेकर एनआईए ने किया बड़ा खुलासा, बढ़ी राजस्थान पुलिस की मुश्किल'इज ऑफ डूइंग बिजनेस' के मामले में 7 राज्यों ने किया बढ़िया प्रदर्शन, जानें किस राज्य ने हासिल किया पहला रैंक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.