scriptchilli seeds non-standard selling by Farmers | सावधान! अमानक मिर्च बीज बिक्री से ठगे जा रहे किसान | Patrika News

सावधान! अमानक मिर्च बीज बिक्री से ठगे जा रहे किसान

खरगोन जिले में मिर्च बीज के लिए सिर्फ 17 कंपनियों को लाइसेंस, कई बाहरी भी शामिल, किसान कंफ्यूज, 80 हजार से एक लाख रुपए किलो तक के भाव में हो रही बिक्री

खरगोन

Published: May 13, 2022 11:06:44 am

खरगोन.
सरकार द्वारा एक तरफ खेती को लाभ का ध्ंाधा बनाने की बात कह रही है, तो दूसरी ओर किसानों की आर्थिक हालत खराब है। वहीं निजी कंपनियों द्वारा महंगे खाद-बीज के नाम पर किसानों से खुली लूट की जा रही है। निमाड़ अंचल में निजी कंपनियों के कपास और मिर्च बीज को लेकर बाड़ से आई हुई हैं। जिसकी आड़ में अमानक बीज भी खपाया जा रहा है। हर साल इस बात को लेकर किसानों द्वारा शिकायत की जाती है। लेकिन उद्यानिकी विभाग का निजी बीज कंपनियों पर कोई नियंत्रण नहीं है। जिसके चलते किसान खूद को ठगा महसूस कर रहे हैं। हाल ही में भीकनगांव क्षेत्र में किसानों ने सजगता दिखाते हुए महाराष्ट्र से आए कुछ लोगों को बिना लाइसेंस के मिर्च बीज बेचते हुए पकड़ा है। जिस मामले में विभागीय जांच चल रही है। उद्यानिकी विभाग से मिली जानकारी के अनुसार जिले में मिर्च बीज बिक्री के लिए 17 निजी कंपनियों के पास लाइसेंस है। इनमें अधिकांश कंपनियां बाहरी राज्यों की है। कंपनियों द्वारा अलग-अलग वैरायटी क बीज बेचा जा रहा है। जिसके कारण किसान भी कंफ्यूज है। कौन सा बीज अधिक उपयोगी है अथवा कसौटी पर खरा उतरेगा, यह कह पाना मुश्किल है।

800 से लेकर एक हजार रुपए रेट
chilli seeds non-standard selling by Farmers
महाराष्ट्र के दलालों से 9 मई को जब्त मिर्च का बीज
बाजार में इस समय मिर्च बीज के रेट आसमान पर है। हर साल कीमत में बढ़ोतरी हो रही है। कमलेश पाटीदार, दिनेश पाटीदार, चंदन कुशवाह आदि ने बताया कि कुछ नामी कंपनियों का बीज 800 से लेकर एक हजार रुपए प्रति दस ग्राम है। वहीं एक किलो बीज की कीमत 80 हजार से एक लाख होती है। इसके बावजूद पैदावार को लेकर हमेशा अशंका बनी रहती है। क्योंकि मिर्च फसल पर सबसे अधिक वायरस का अटैक होता है। जिससे उत्पादन प्रभावित होता है।

अभी रोपा तैयार, जून में बुआई
मिर्च फसल बोने के लिए भी किसानों द्वारा छोटी-छोटी क्यारियों में बीज की रोपणी (रोपा) तैयार किया जा रहा है। जिसके बाद जून में इसे खेतों में लगाया जाएगा। उल्लेखनीय है कि पिछले साल जिले में 50 हजार हेक्टेयर रकबा मिर्च का था, जो इस साल बढऩे की उम्मीद है।
इन कंपनियों को लाइसेंस

महिको महाराष्ट्र हाईब्रिड सीड्स कंपनी प्रावि इंदौर, स्टार फिल्ड क्रॉप साइंस इंदौर, चिगरू सीड्स कर्नाटक, क्लॉज वेजीटेबल सीड्स तेलगांना, दिव्य शक्ति गुजरात, यूपीएल एडवांटा, वरद सीड्स जालना महाराष्ट्र, यूनिसेम एग्रीटेक बैंगलोर, सिनर्जी सीड्स राजकोट, नू-जीनस इंदौर, सिजेंटा इंडिया इंदौर, अंकुर सीड्स नागपुर, कलाश सीड्स जालना, नन्हेम्स हैदाराबाद, नुजिवीडु सीड्स इंदौर, ऐसेन हेवेज इंदौर, केलिक्स एग्रीजिनेटिक जयपुर।

बगैर लाइसेंस पर कार्रवाई
मिर्च बीज बिक्री के लिए 17 कंपनियों को अधिकृत कर लाइसेंस जारी हुए हैं। इसके अलावा अन्य कोई कंपनी कारोबार करती है, तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। भीकनगांव में जब्त हुए बीज की जांच चल रही है।
मोहन मुजाल्दा, उप संचालक उद्यानिकी विभाग खरगोन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

17 जनवरी 2023 तक 4 राशियों पर रहेगी 'शनि' की कृपा दृष्टि, जानें क्या मिलेगा लाभज्योतिष अनुसार घर में इस यंत्र को लगाने से व्यापार-नौकरी में जबरदस्त तरक्की मिलने की है मान्यतासूर्य-मंगल बैक-टू-बैक बदलेंगे राशि, जानें किन राशि वालों की होगी चांदी ही चांदीससुराल को स्वर्ग बनाकर रखती हैं इन 3 नाम वाली लड़कियां, मां लक्ष्मी का मानी जाती हैं रूपबंद हो गए 1, 2, 5 और 10 रुपए के सिक्के, लोग परेशान, अब क्या करें'दिलजले' के लिए अजय देवगन नहीं ये थे पहली पसंद, एक्टर ने दाढ़ी कटवाने की शर्त पर छोड़ी थी फिल्ममेष से मीन तक ये 4 राशियां होती हैं सबसे भाग्यशाली, जानें इनके बारे में खास बातेंरत्न ज्योतिष: इस लग्न या राशि के लोगों के लिए वरदान साबित होता है मोती रत्न, चमक उठती है किस्मत

बड़ी खबरें

Amarnath Yatra: सभी यात्रियों का 5 लाख का होगा बीमा, पहली बार मिलेगा RIFD कार्ड, गृहमंत्री ने दिए कई अहम निर्देशवाराणसी कोर्ट में का फैसला: अजय मिश्रा कोर्ट कमिश्नर पद से हटे, सर्वे रिपोर्ट पर सुनवाई 19 मई को, SC ने ज्ञानवापी पर हस्तक्षेप से किया इंकारGyanvapi: श्रीलंका जैसे हालात दे रहे दस्तक, इसलिए उठा रहे ज्ञानवापी जैसे मुद्दे-अजय माकनCBI Raid के बाद आया केंद्रीय मंत्री पी चिदंबरम का बयान - 'CBI को रेड में कुछ नहीं मिला, लेकिन छापेमारी का समय जरूर दिलचस्प'कोरोना के कारण गर्भपात के केस 20% बढ़े, शिशुओं में आ रही विकृतिRajya Sabha polls: कौन है संभाजी राजे जिनको लेकर महाविकस आघाडी और बीजेपी में बढ़ा आंतरिक मतभेदतालिबान ने अफगानिस्तान में खत्म किया मानवाधिकार आयोग, कहा- 'गैर-जरूरी संस्थाओं के लिए फंड नहीं'Consumer Court का फैसला : पार्किंग के सात रुपए वसूले थे अवैध, अब निगम और ठेकेदार भुगतेंगे 8-8 हजार
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.