scriptFarmers struggling with this problem | समर्थन पर उपज बेचने से पहले इस समस्या से जुझ रहे किसान | Patrika News

समर्थन पर उपज बेचने से पहले इस समस्या से जुझ रहे किसान

-चार दिन से सर्वर डाउन, खेतों का कामकाज छोड़ पंजीयन के लिए दिनभर केंद्रों पर समय बीता रहे किसान

खरगोन

Updated: February 24, 2022 03:19:33 pm

खरगोन.
समर्थन मूल्य पर गेहंू व चना बेचने से पहले किसानों को पंजीयन कराना अनिवार्य है। लेकिन यह प्रक्रिया प्र्रशासन सहित किसानों की कड़ी अग्नि परीक्षा ले रही है। चार दिनों से सर्वर डाउन है। पंजीयन नहीं हो पा रहे। केंद्रों तक कोसों दूर से आए किसान दिनभर पंजीयन का इंतजार कर रहे हैं। बुधवार को भी किसान हाथ पर हाथ धरे बैठे रहे। उधर, विभाग ने बताया समस्या को लेकर भोपाल पत्र व्यवहार करेंगे। मुसीबत यह है कि पंजीयन प्रक्रिया ५ मार्च तक चलेगी। पांच फरवरी से २२ फरवरी तक महज ६८१७ किसानों ने गेहंू व ३९९९ किसानों ने चने के लिए पंजीयन कराया है।
बिस्टान नाका क्षेत्र स्थित गणेश मार्केटिंग सोसायटी में पंजीयन के लिए आए कुकडोल के किसान कनकसिंह, भसनेर के शिवशंकर चौहान, कुम्हारखेड़ा के जितेंद्र जगदीश, अंतिम चौहान ने बताया चार दिनों से रोजाना सुबह १० बजे यहां आ रहे हैं। शाम ५ बजे तक सर्वर शुरू होने का इंतजार कर बगैर पंजीयन ही लौटना पड़ रहा है। पंजीयन के चक्कर में दूसरे कामकाज भी नहीं हो पा रहे।
Farmers struggling with this problem
खरगोन. सर्वर डाउन होने से केंद्रों पर नहीं हो रहे पंजीयन, इंतजार में किसान।
कैसे होगा पंजीयन
जिले में बीते साल ४८८१० किसानों ने पंजीयन कराया था, जबकि २०२० में पंजीकृत किसानों की संख्या ३३८४० थी। लेकिन इस बार हालात बिल्कुल विपरित है। पंजीयन के १७ दिन हो चुके हैं, लेकिन पंजीकृत किसानों की संख्या अभी बमुश्किल १० हजार के आसपास पहुंची है। जबकि पंजीयन की अंतिम तिथि ५ मार्च है। २५ मार्च से खरीदी संभावित है।
11 दिन और चलेगा पंजीयन
विभाग के अनुसार पंजीयन का समय ५ मार्च तक है। यानी अब यह प्रक्रिया अगले १० से ११ दिन और चलेगी। अभी बीते १७ दिन में ६८१७ किसानों ने गेहंू व ३९९९ किसानों ने चने के लिए पंजीयन कराया है। यानी दस हजार के आसपास पंजीयन हुए हैं।
गेहंू व चना कटाई में भी हो रही देरी
किसानों ने कहा- पंजीयन के साथ किसानों को गेहंू व चना कटाई भी कराना है। अब फसलें पककर तैयार है, कटाई नहीं हुई तो नुकसान होगा। अभी तो पंजीयन के लिए चार-पांच दिनों से केंद्रों के चक्कर लगा रहे हैँ। ऐसे में खेतों के कामकाज प्रभावित हो रहे हैं। न काम हो रहा है न पंजीयन। बस समय बर्बाद हो रहा है।
भोपाल लिखा पत्र
सर्वर डाउन की समस्या से पंजीयन में दिक्कत आ रही है। मौखिक तौर पर विभागीय अफसरों को बताया है। मंगलवार को ही भोपाल पत्र लिखकर समाधान की मांग रखी है। -भारतसिंह जमरे, प्रभारी ,खाद्य निरीक्षक, खरगोन

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Veer Mahan जिसनें WWE में मचा दिया है कोहराम, क्या बनेंगे भारत के तीसरे WWE चैंपियनName Astrology: इन नाम वाले लोगों के जीवन में अचानक से धनवान बनने का होता है योगफटाफट बनवा लीजिए घर, कम हो गए सरिया के दाम, जानिए बिल्डिंग मटेरियल के नए रेटबुध जल्द वृषभ राशि में होंगे मार्गी, इन 4 राशियों के लिए बेहद शुभ समय, बनेगा हर कामबेहद शार्प माइंड होते हैं इन 4 राशियों के लोग, बुध और शनि देव की रहती है इन पर कृपाज्योतिष: रूठे हुए भाग्य का फिर से पाना है साथ तो करें ये 3 आसन से कामराजस्थान में देर रात उत्पात मचा सकता है अंधड़, ओलावृष्टि की भी संभावनाशादी के 3 दिन बाद तक दूल्हा-दुल्हन नहीं जा सकते टॉयलेट! वजह जानकर हैरान हो जाएंगे आप

बड़ी खबरें

कश्मीर में आतंकी हमले में टीवी एक्ट्रेस की मौत, 10 साल के भतीजे पर भी हुई फायरिंगसुरक्षा एजेंसियों ने यासीन मलिक की सजा के बाद जारी किया आतंकी हमले का अलर्टIPL 2022, LSG vs RCB Eliminator Match Result: पाटीदार के दम पर जीता RCB, नॉकआउट मुकाबले में LSG को 14 रनों से हरायाटेरर फंडिंग केस में यासीन मलिक को उम्र कैद की सजा, 10 लाख का जुर्मानायासीन मलिक की सजा से तिलमिलाया पाकिस्तान, PM शहबाज शरीफ, इमरान खान, शाहिद आफरीदी को आई मानवाधिकार की यादAir Force के 4 अधिकारियों की हत्या, पूर्व गृहमंत्री की बेटी का अपहरण सहित इन मामलों में था यासीन मलिक का हाथअमरनाथ यात्रियों को तीन लेयर में मिलेगी सिक्योरिटी, ड्रोन व CCTV कैमरों के जरिए भी रखी जाएगी नजरमहबूबा मुफ्ती ने बीजेपी पर हमला करते हुए कहा- आप बता दो कि मुसलमानों के साथ क्या करना चाहते हो
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.