यहां मिरी-रोटो खाई लेवांगा, अब परदेस नहीं जावांगा

दर्द का एहसास...
-कोरोना संक्रमण के बीच खुद को सेफ करने के लिए शहरों व अन्य राज्यों से आए लोगों ने सुनाई पीड़ा, ऐसी कमाई किस काम की, जान है तो जहान है

By: Gopal Joshi

Published: 18 Apr 2020, 06:01 AM IST

खरगोन.
यहां मिरी-रोटो खाइ लेवांगा पर अब परदेस नी जावांगा। जान छे तो जहान छे। जरा सी कमाई का चक्कर म खुद मुसीबत म रयणूं न परिवार क भी पटकणंू का की समझदारी। यह बानगी उन परिवार सदस्यों की है जो दो जून की रोटी का बंदोबस्त करने के लिए घर-गांव छोड़कर इंदौर सहित अन्य राज्यों में लंबे अरसे से काम कर रहे हैं। कोरोना महामारी से बचने के लिए अभी खुद की जान बचाने के लिए अपने घर-गांव लौटे हैं। यहां होम आयसोलेट हैं। उनका कहना है कि जान है तो जहान है। कमाई खूब कर भी ली और सेहत भी दगा दे गई तो ऐसी कमाई किस काम की।
इंदौर की प्रायवेट कंपनी में काम करने वाले दुर्गेश ने बताया वे जॉब के चक्कर में बीते १० सालों से इंदौर में ही है। पहले कभी ऐसे विकट हालात नहीं बने जब काम छोड़कर इतने दिन घर में रहे हो, लेकिन यह खतरा आगाह कर रहा है कि यदि खुद के लिए, प्रकृति के लिए नहीं जिए तो बेवजह से मुसीबत खड़ी कर लेंगे। इसलिए अब इंदौर नहीं जाने का मन बनाया है। महाराष्ट्र के अकोला में काम करने वाले रितिन पाटीदार का कहना है- पहले घर लौटने पर पड़ोसी व परिचित सम्मान से बुलाते थे, लेकिन अभी शक की नजर से देखते हैं। अपनों के बीच अपना सम्मान ही न रहे तो ऐसी नौकरी से क्या फायदा। १६ मार्च को यहां आए। सबसे पहले आने की थाने पर दी। तब से होम आयसोलेट में है। कोई समस्या भी नहीं है लेकिन मन में डर इतना बैठ गया है कि अब वापस जाने के बारे में सोचकर ही मन घबराने लगता है। अब तय किया है कि भले कमाई कम हो लेकिन यहां रहेंगे, स्वस्थ्य रहेंगे।

बाहर से आने वालों की कहानी, सरकारी आंकड़ों की जुबानी
-84 विदेश से लौटे व्यक्ति अब तक
-17652 अन्य जिलों से आए लोग
-66 व्यक्ति ऐसे जो विदेश से लौटे होम क्वारेंटाइन पूरा किया

सभी की हो चुकी स्क्रीनिंग
जिले में अन्य राज्यों, विदेशों व अन्य जिलों से आए लोगों की स्वास्थ्य विभाग ने स्कीनिंग की है। कुछ लोग अब भी होम आयसोलेट है और डॉक्टरों का आब्जर्वेशन चल रहा है। शुकवार को भी अन्य राज्यों व जिलों से 100 व्यक्ति घर लौटे। इनकी स्क्रीनिंग कर इन्हें होम क्वारेंटाइन में रखा गया है।

Gopal Joshi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned