राजनीतिक स्टंट, कॉलेज में जुलूस निकाल की भारत माता की आरती

राजनीतिक स्टंट, कॉलेज में जुलूस निकाल की भारत माता की आरती

hemant jat | Publish: Jan, 14 2018 11:48:30 AM (IST) Khargone, Madhya Pradesh, India

- एबीवीपी की मांग के बाद एनएसयूआई ने भारत माता की प्रतिमा लगाने की मांग रखी


खरगोन.
शहर के पीजी कॉलेज में शनिवार को छात्र संगठनों का भारी घमासान देखने को मिला। अभाविप ने शनिवार को भारत माता की महाआरती रखी। इसके बाद एनएसयूआई ने भी इस मुद्दे पर मोर्चा खोला। शनिवार दोपहर दोनों छात्र संगठन कॉलेज में अपनी-अपनी देशभक्ति का प्रदर्शन करते रहे। इससे कॉलेज में दिनभर गहमागहमी का माहौल रहा।
दरअसल, शुक्रवार को अभाविप ने ऑडिटोरियम हाल के गेट पर भारत माता सभागृह लिखवाया। प्राचार्य से विवाद के बाद संगठन ने शनिवार दोपहर साढ़े 12 बजे कॉलेज में भारत माता की महाआरती की। यहां अभाविप के सचिन पाठक, अंकित साहू, भोलू कर्मा, छात्रसंघ सचिव शिवानी पटेल, रजत सावनेर सहित अन्य दर्जनों कार्यकर्ता मौजूद रहे। इसके करीब एक घंटे बाद एनएसयूआई के प्रशांत सांवले, अभिनव आर्य, छात्रसंघ अध्यक्ष अक्षय खांडे, अंतिम खांडे, सुलतान भुट्टो भारत माता की फोटो लेकर महाआरती के लिए सभागृह पहुंचे। इसके बाद भारत माता के वेश में सजी बालिका कॉलेज पहुंची। छात्रसंघ उपाध्यक्ष सुधा उपाध्याय, सह सचिव श्रुति चौरे, वैशाली बैरागी सहित अन्य कार्यकर्ताओं ने ढोल-ताशों के साथ कॉलेज कैंपस में भारत माता का जुलूस निकाला। कैंपस भारत माता के जयकारों से गूंज उठा। जुलूस के बाद सभागृह में भारत माता की आरती कर प्रसादी बांटी गई।

नारों से संगठनों ने एक-दूजे पर कटाक्ष किया
सभागृह के विवाद में दोनों संगठनों के मतभेद दिखाई दिए। दोनों संगठनों से जुड़े कार्यकर्ताओं ने नारों के माध्यम से एक-दूसरे पर जमकर कटाक्ष किया। अभाविप ने अपने नारों में देशद्रोहियों के खिलाफ तो एनएसयूआई ने देशभक्ति का फर्जी दिखावा करने वालों के खिलाफ मोर्चा खोला।


फर्जी देशवादियों से लडऩे कैंपस में लगे भारत माता की मूर्ति
अभाविप के सभागृह के नामकरण के बाद एनएसयूआई ने एक कदम आगे बढ़कर सभागृह के बाहर भारत माता की प्रतिमा लगाने की मांग रखी। एनएसयूआई ने प्राचार्य के नाम ज्ञापन से बताया कि प्रतिमा लगने से विद्यार्थियों में ज्ञान का प्रकाश जागृत होने के साथ ही फर्जी देश वादियों से लडऩे में मदद मिलेगी।

तख्ती हटाने का विरोध
- हाल के गेट पर भारत माता परिसर की तख्ती लगाई थी। प्राचार्य ने इसे हटाने के पीछे विरोध होने की बात कही थी। बाद में वो अपनी बात से मुकर गए। इसके खिलाफ अभाविप ने कैंपस में भारत माता की महाआरती की। - सचिन पाठक, विभाग संयोजक, अभाविप।
- मूर्ति लगाने की मांग
- तख्ती हटाने पर सोशल मीडिया पर कुछ लोग अप्रत्यक्ष रुप से हमारी देशभक्ति पर कटाक्ष कर वामपंथी विचारधारा के बताना चाह रहे थे। भारत माता का जुलूस और महाआरती से उन्हें करारा जवाब दिया।

- प्रशांत सावले, प्रदेश महासचिव, एनएसयूआई।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned