रैकी कर मकानों में दिनदहाड़े करते थे वारदात, गिरफ्तार

दो शातिर चोर चढ़े पुलिस के हत्थे, आठ लाख रुपए का माल बरामद
पूछताछ में शहर में हुई आठ चोरियां कबूली

By: हेमंत जाट

Updated: 09 Dec 2017, 10:01 PM IST

खरगोन. शहर में एक के बाद एक चोरी की वारदातें कर लोगों और पुलिस की नींद उड़ा देने वाले चोर गिरोह के दो बदमाशों को पुलिस ने पकडऩे में सफलता प्राप्त की है। दोनों बदमाश गोगावां के रहने वाले है, जो शहर में घुमकर पहले रैकी करते थे फिर सूने मकान देखकर दिनदहाड़े ताले तोड़कर घर में रखा माल बटोरकर रफूचक्कर हो जाते थे। हाल ही में बदमाशों ने बृजविहार कॉलोनी में मशीनरी व्यापारी के घर पांच लाख की चोरी की थी।
एसपी डी कल्याण चक्रवर्ती ने शुक्रवार को मामले का पर्दाफाश कर बताया कि पुलिस ने आरोपी साजिद उर्फ भूरा पिता खालिद और असलम पिता अकलिम निवासी गोगावां को गिरफ्तार किया। इनके पास से २० हजार नकदी सहित करीब ८ लाख के जेवर बमराद हुए हैं। गिरोह में साजिद का भाई शाबास भी मिला हुआ था, जो फरार है। आरोपियों ने पुलिस पूछताछ में आठ वारदातें कबूल की। चोरी की यह वारदातें बृज विहार, बिस्टान नाका, ऋषिका नगर, आजाद नगर, अंजूमन नगर में की गई। ११ दिसंबर तक पुलिस रिमांड मिली है।

पहले रैकी, फिर करते थे वारदात
बदमाश छोटी-छोटी चोरियों के बाद बड़ी वारदातें करने लगे थे। इसमें उन्हें मोटा माल भी मिलता था। गोगावां से आकर खरगोन में किसी न किसी बहाने कॉलोनियों में घुमकर रैकी करते थे। फिर सूने मकान को देखकर वारदात को अंजाम देते थे। इनके निशाने पर भी पॉश कॉलोनियों में सूने मकान ही होते थे। जहां ताला तोड़कर आसानी से वारदात कर बदमाश भाग जाते थे। इससे बदमाशों को पकड़े जाने का डर भी नहीं रहता था। पूर्व में भी बदमाशों ने गोगावां में भी इसी तर्ज पर चोरी की वारदातों को अंजाम दिया था।

दो महीने से लगातार वारदातें
पिछले दो महीने में चोरी की छोटी-बड़ी करीब २० वारदातें हुई थी। जिसके चलते पुलिस की कार्यप्रणाली पर भी सवाल उठने लगे थे। इसके बाद पुलिस लगातार बदमाशों की तलाश में थी और इसका फायदा आगे चलकर मिला। बदमाशों को पकडऩे में टीआई कोतवाली एमपी वर्मा, उप निरीक्षक प्रवीण आर्य, प्रधान आरक्षक शक्तिसिंह, आर भगवान, आशीष अजनारे की भूमिका रही। एसपी ने टीम को १० हजार रुपए ईनाम देने की घोषणा भी की।

पुलिस के लिए चुनौती बनी वारदातें
०१ अक्टूबर: मोतीपुरा निवासी शिव सांवनेर के घर एक लाख रुपए की चोरी।
१६ अक्टूबर: उद्योग विभाग में पदस्थ अनिल सोनी के घर चोरी।
१८ अक्टूबर: न्यू राधावल्लभ मार्केट में मनीष दुबे की स्पोट्र्स की दुकान से एक लाख का सामान चोरी।
२४ अक्टूबर: जिला अस्पताल में पदस्थ स्वास्थ्य कर्मचारी के बृजविहार कॉलोनी में दिनदहाड़े दो लाख की चोरी।
०१ नवंबर: कुंदा नगर निवासी जितेंद्र रघुवंशी के घर नकदी सहित ३० हजार का माल बरामद।
०४ नवंबर: आरईएस विभाग में पदस्थ बबीता जैन निवासी श्रीजी कॉलोनी के घर वारदात।
०९ नवंबर: ऋषिका नगर में रिटायर्ड इंस्पेक्टर के घर चोरी।
१५ नवंबर: ऋषिका नगर में आरटीओ एजेंट जमील मिर्जा के सूने मकान में चोरी।
२२ नवंबर: रामकथा आयोजन में चार महिलाओं के गले से सोने की चेन गायब।
२५ नवंबर: बृज विहार कॉलोनी में मशीनरी व्यापारी दीपक जैन के घर दिनदहाड़े पांच लाख की चोरी।


पुलिस कार्रवाई में चोर गिरोह से जुड़े दो बदमाशों को गिरफ्तार किया है। करीब आठ लाख का माल भी बरामद हुआ है। पूछताछ में और भी खुलासे होने की उम्मीद है।
डी कल्याण चक्रवर्ती, एसपी

 

हेमंत जाट Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned