जंगल में मिला तेंदुए का शव, भूख व प्यास से मरने की आशंका

जंगल में मिला तेंदुए का शव, भूख व प्यास से मरने की आशंका
जंगल में मृत तेंदुए के मिले अवशेष।

Hemant Jat | Updated: 04 Jun 2019, 12:26:40 PM (IST) Khargone, Khargone, Madhya Pradesh, India

बड़वाह के निकट कोठावा आश्रम के पास की घटना, नाले में पड़ा था मृत तेदुआं

बड़वाह (खरगोन)
अंधाधुंध पेड़ों की कटाई और भीषण गर्मी के कारण वन्य जीवों की जान पर खतरा मंडराने लगा है। इसी तरह की एक घटना बड़वाह में वन क्षेत्र में सामने आई है। जहां भूख-प्यास से तेंदुए के मरने की बात कही जा रही है। हालांकि इसकी अधिकारिक रूप से पुष्टि नहीं हुई। ग्रामीणों ने रविवार को सुरतीपुरा कोठावा आश्रम के पूर्व नाले में मृत तेंदुए का शव देख वन अमले को सूचा दी थी। जिसके बाद अमला मौके पर पहुंचा। विभाग के अधिकारी और कर्मचारियों ने घटना स्थल का मौका मुआयना किया । डीएफ ओ प्रभारी संजीव झा ने जानकारी देते हुए बताया कि तेंदुए के मरने की जानकारी हमें वन आरक्षक द्वारा दी गई थी। इस सूचना पर विभाग के स्टाफ ने जाकर जानकारी ली। जिसके बाद सोमवार को पशु चिकित्सक किशन सेफ्टा और उनकी डॉक्टरों की टीम को बुलवाकर तेंदुए का पीएम करवाया गया। इसी के साथ इंदौर की एसटीएफ की टीम ने भी घटना स्थल का मौका मुआयना किया ।

क्षेत्र में तीसरी बार हुई मौत
बड़वाह वन परिक्षेत्र में तेंदुए के मौत की यह तीसरी घटना है। इसके पूर्व भी क्षेत्र में तेंदुए के शिकार करने और मौत जैसे घटनाएं सामने आ चुकी है। इससे वन जीवनों की सुरक्षा को लेकर सवाल उठ रहे हैं। वन अमले ने मृत तेंदुए का पीएम कराया है। अभी जांच आना बाकी है।

25 से 30 दिन पहले हुई मौत
पशु चिकित्सक सेफ्टा ने बताया तेंदुए की मौत करीब 25 से 30 दिन पहले हुई है। लेकिन पीएम के अनुसार इस जानवर का शिकार नहीं हुआ है। यह इसलिए क्योंकि मृत तेंदुए के दांत, पैर के नाखून और बाल मिले। जिससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि तेंदुए का किसी ने भी शिकार नहीं किया है। तेंदुए के मृत होने का कारण पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही स्पष्ट होगा। मृत तेंदुए को पीएम करने के पश्चात घटना स्थल पर ही जला दिया गया ।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned