पानी की तलाश में भटकते हुए कुएं में गिरा तेंदुआ, रेस्क्यू के दौरान ग्रामीणों पर हमला कर जंगल की ओर भागा

जान बची तो लाखों पाए...मंडलेश्वर वनपरिक्षेत्र की ग्राम पंचायत बकलाय के सीरायमाल फाल्या की घटना, वन अमले की टीम कर रही सर्चिंग

खरगोन.
पानी की तलाश में वन्य जीव भटकते हुए जंगल को छोड़कर गांवों का रूख कर रहे हैं। मंडलेश्वर वनपरिक्षेत्र के अंतर्गत आने वाली ग्राम पंचायत बकलाय के सीरायमाल फाल्या में सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात्रि में पानी की तलाश में एक तेंदुआ भटकते हुए किसान नारायणसिंह के खेत में बने कच्चे कुएं में जा गिरा। यह खेत वाइचू पाइंट रोड से सटा हुआ था। मंगलवार सुबह ग्रामीणों ने जब देखा, तो उसकी सूचना वन अमले को दी गई। इसके बाद मंडलेश्वर से रेंजर विधि सिरोलिया सहित टीम मौके पर पहुंची। तेंदुए को बाहर निकालने के लिए रेस्क्यू शुरू किया गया। इसी दौरान तेंदुए ने अचानक ग्रामीणों पर हमला कर दो लोगों घायल कर दिया और फिर खुद जंगल की ओर भाग गया। उक्त घटना से ग्रामीण भयभीत है। वहीं वन अमले की टीम लगातार तेंदुए की सर्चिंग में लगी है। उल्लेखनीय है कि तेंदुआ जिस कुएं में गिरा था, वह लगभग 30 से 40 फीट गहरा होकर कच्चा था। इसे बाहर निकालने के लिए वन अमले और ग्रामीणों को मशक्कत करना पड़ी।

रातभर कुएं में बैठकर गुर्राता रहा
तेंदुआ रात के अंधेरे में कुएं में गिरा था। वह रातभर गुर्राता रहा। सुबह जब ग्रामीण वहा से गुजर रहे थे, तो उन्हें कुंए के अंदर से आवाज आई। जिसके बाद कुछ ग्रामीण हिम्मत जुटाकर कुएं के पास पहुंचे और नीचे देखा। जहां पानी के अंदर तेंदुआ बैठा था। तेंदुए को देखने के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीणों की भीड़ जमा हो गई।

बाहर आते ही किया हमला
तेंदुए को बाहर निकलाने के लिए रेस्क्यू टीम ने अलग-अलग रस्सों से खटिया को बांधकर कुएं में उतारा। जिस पर उछलकर तेंदुआ बैठ गए। इसे जैसे ही बाहर निकला, तो तेंदुआ ने खटिया से छलांग लगा दी और ग्रामीणों पर हमला कर दिया। हमले में रस्सा खीचं रहे प्रेम सिंह पिता तुलसीराम (25) एवं पूज्या पिता प्यार सिंह (32) घायल हुए हंै। तेंदुए ने पुंजया के बाए हाथ पर पंजा मारा। वहीं प्रेम सिंह दौड़कर पुंजया को बचाने लगा तो तेंदुए ने झपटा मारकर चोट पहुंचाई। दोनों घायलों को मंडलेश्वर के सरकारी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।

सर्चिंग जारी
रेस्क्यू के दौरान तेंदुए ने दो ग्रामीणों पर हमला कर घायल किया है। जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया। तेंदुआ जंगल की ओर भाग गया है। लगातार सर्चिंग पर उस पर नजर रखने का प्रयास किया जा रहा है।
विधि सिरोलिया रेंजर, वन रेंज मंडलेश्वर

हेमंत जाट Bureau Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned