क्यों अलग थी पीएम मोदी की 2019 की अंतिम चुनावी रैली? पहली बार राहुल गांधी का नहीं किया जिक्र

क्यों अलग थी पीएम मोदी की 2019 की अंतिम चुनावी रैली? पहली बार राहुल गांधी का नहीं किया जिक्र

Pawan Tiwari | Publish: May, 18 2019 09:19:07 AM (IST) | Updated: May, 18 2019 09:37:46 AM (IST) Khargone, Khargone, Madhya Pradesh, India

पीएम मोदी ने 2019 के चुनाव कैंपेन की शुरुआत उत्तरप्रदेश के मेरठ से शुरू की थी और समापन एमपी के खरगोन में हुआ।

खरगोन. लोकसभा चुनाव 2019 के लिए चुनाव प्रचार थम गया है। देश की 59 सीटों पर 19 तारीख को वोट डाले जाएंगे। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 2019 के लोकसभा चुनाव की अपनी आखिरी सभा मध्यप्रदेश के खरगोन संसदीय सीट में की। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी इस रैली में एक अलग अंदाज में नजर आए। चुनाव के लिए पीएम मोदी ने जितनी भी सभाएं की उनमें से खरगोन की रैली में पीएम मोदी की बाकि रैलियों से अलग थी। पीएम मोदी ने यहां विपक्ष पर हमला भी बोला। पीएम मोदी ने यहां विपक्ष पर आक्रमक हमला बोला पर लहजे में सख्ती नहीं नरमी थी। 2 महीने लंबा और आक्रामक प्रचार अभियान खत्म हो गया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस दौरान 142 रैलियों को संबोधित किया और 4 रोड शो भी किए।

 

pm modi

45 मिनट तक सभा को किया संबोधित
पीएम मोदी ने खरगोन में करीब 45 मिनट तक संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने शुरुआती 12 मिनट में खरगोन, झाबुआ और रतलाम का जिक्र किया। इस दौरान उन्होंने अपने पुराने दिनों को भी याद किया और गुजरात में सीएम, संगठन मंत्री के तौर पर अपने काम को याद किया। पीएम मोदी ने शुरुआती भाषण में लोगों से वोट करने की अपील की। लोगों को वोट के महत्व को समझाया।

 

 

विपक्ष पर हमला बोला
अपने भाषण में 13 मिनट से 20 मिनट तक पीएम मोदी ने कर्नाटक के सीएम कुमारस्वामी के बयान पर टिप्पणी करते हुए विपक्ष पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि जो लोग अपने देश के सैनिकों का सम्मान नहीं कर सकते हैं उन लोगों को कभी वोट मत देना।


आदिवासी और किसान के विकास कल्याण की बात
पीएम मोदी ने इस रैली में आदिवासियों और किसानों के हित को लेकर भाषण दिया। पीएम मोदी ने कहा- मैं आपको इस बात के लिए भी आश्वस्त करता हूं कि जब तक मोदी और भाजपा है, तब तक जंगल में रहने वालों के अधिकारों को और उनकी जमीन को कोई हाथ नहीं लगा सकता। पढ़ाई के लिए देशभर में एकलव्य स्कूलों का एक व्यापक नेटवर्क बनाया जा रहा है। आदिवासी क्षेत्रों से विश्व स्तरीय खिलाड़ी तैयार करने का हमने अभियान चलाया है। वनधन केंद्रों के माध्यम से वन-उपज में मूल्य वृद्धि करने के लिए हम निरंतर काम कर रहे हैं। आपका ये सेवक आदिवासी समाज की पढ़ाई, कमाई, दवाई, सिंचाई और जन-जन की सुनवाई के लिए पूरी निष्ठा से काम कर रहा है।

pm modi

 

किसानों की आय दोगुनी करने के लिए प्रतिबद्ध
मोदी ने कहा- बीते 5 वर्ष में बीज से लेकर बाज़ार तक की एक मजबूत व्यवस्था बनाने के लिए जो उठाए कदमों को हम और गति देने वाले हैं। 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने के लिए हम पूरी तरह से प्रतिबद्ध हैं। ऐसा झूठ फैलाया जा रहा है कि मोदी किसानों के खाते में जो पैसा जमा करता है, वो चुनाव के बाद वापस लेगा। ये कैसा झूठ फैलाया जा रहा है? भारत सरकार आपके खाते में जो पैसे जमा कर रही है वो पैसे आपके हैं, दुनिया की कोई ताकत उन पैसों को वापस नहीं ले सकती। फसलों की लागत कम हो और उचित मूल्य मिले, ये हमारा निरंतर प्रयास रहा है। अन्नदाता अब ऊर्जादाता भी बने इसके लिए हम कदम उठा चुके हैं। किसान अपनी जमीन पर सोलर पैनल लगाकर बिजली पैदा करे, और राज्य सरकार उस बिजली को खरीदे, ऐसे प्रयास हमारी सरकार कर रही है।

 

प्रदेश सरकार पर हमला
पीएम मोदी ने इस सभा में प्रदेश सरकार पर जमकर हमला। उन्होंने कहा- मध्यप्रदेश में ढाई मुख्यमंत्रियों की सरकार चल रही है। यहां कर्मचारियों को परेशान करने का और ट्रांसफर का गोरखधंधा बराबर फल-फूल रहा है। अपराधी और डकैत सिर उठा रहे हैं। आदिवासी और दलित छात्र-छात्राएं भत्तों के लिए तरस रहे हैं। तुगलक रोड चुनाव घोटाला सारे देश ने देखा है। कांग्रेसी नेताओं के घर से बोरे भर भर के नोट निकले हैं। एक अंगुली दबाने में हुई गलती ने पूरे मध्य प्रदेश को तबाह कर दिया। बिजली के वादे के साथ तो इन्होंने ऐसा खेल कर दिया कि अच्छे-अच्छे चकरा जाएं। इन्होंने बिजली का बिल आधा करने का वादा किया था। लेकिन इनका शैतानी दिमाग देखिए, बिजली का बिल तो आधा किया नहीं, बिजली ही आधी कर दी। यहां विधानसभा चुनाव में कांग्रेस वालों ने कहा था कि हम 10 दिन में किसानों का कर्ज माफ़ कर देंगे। अब तक कर्ज माफ़ हुआ क्या ? उल्टा बैंक नए कर्ज नहीं दे रहे। जिन्होंने कर्ज माफ़ नहीं किया, उन्हें कहिये कि आप हमें माफ़ करो और जाओ।

लोहिया का जिक्र
पीएम मोदी ने इस सभा में राममनोहर लोहिया जी को भी याद किया। उन्होंने कहा- लोहिया जी ने कहा था कि हमारे देश की महिलाओं की दो मुख्य समस्या हैं, एक पानी की और दूसरी शौचालय की। नेहरु के सामने खड़े होकर वो बार-बार बोलते थे, इन्होंने नहीं सुनी। मैंने पिछले 5 साल में लोहिया जी का सपना पूरा करने के लिए शौचालय बनाने का अभियान चलाया है। अब आने वाले पांच वर्षों में पानी के लिए काम करने वाले हैं। आज आयुष्मान भारत योजना ने देश को, गरीब को ये विश्वास दिया है की अब पैसों की कमी बेहतर स्वास्थ्य के आड़े नहीं आएगी। 5 लाख रुपये तक का मुफ्त इलाज आज लाखों परिवारों को बीमारी के साथ साथ भीषण गरीबी में जाने से भी बचा रहा है।

 

pm modi

महिलाओं का आभार
पीएम मोदी ने कहा- मैं उन बेटियों-बहनों-माताओ का भी आभारी हूं ,जिन्होंने आगे आकर अपने इस सेवक को आशीर्वाद दिया है। मैं हर बहन-बेटी को आश्वस्त करता हूं कि बीते 5 वर्षों में महिला सशक्तिकरण की जो यात्रा शुरु की गई है, उसे और सशक्त किया जाएगा। बीते 5 वर्ष में हर स्कूल में, हर घर में बहन-बेटियों के लिए हमने शौचालय बनाया। घर-घर तक बिजली पहुंचाने का बीड़ा उठाया। गरीब से गरीब के घर में मुफ्त गैस का कनेक्शन दिया। आने वाले 5 वर्षों में हम पानी की समस्या पर गंभीरता से काम करने वाले हैं। पीएम मोदी ने कहा- मैं उन सभी लोगों का आभार प्रकट करता हूं जो चट्टान की तरह खड़े रहे।

राहुल का नहीं किया जिक्र
पीएम मोदी ने इस रैली में एक बार भी कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी का जिक्र नहीं किया। पीएम मोदी ने अपनी रैली में एक बार भी नामदार शब्द का प्रयोग नहीं किया। इसके साथ ही उन्होंने किसी भी विपक्षी नेता का नाम तक नहीं लिया। पूरी रैली में मोदी ने एक बार महामिलावटी का जिक्र किया। उन्होंने मध्यप्रदेश की रैली में मध्यप्रदेश की सरकार पर हमला बोला पर प्रदेश के किसी भी नेता का नाम नहीं लिया। पीएम मोदी ने यहां कि रैली में नए भारत की बात की और नए भारत के विकास के लिए उन्होंने उनकी रूप रेखा बताई की आने वाले पांच वालों में किन-किन मुद्दों पर काम किया।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned