दुकानदारों को इस हरकत की वजह से अफसरों के सामने जोडऩे पड़े हाथ पैर...

नगरपालिका की कार्रवाई
चोरी छूपे खुले में फेंक रहे थे कचरा, पॉलीथिन का कर रहे थे उपयोग, नपा की टीम ने पकड़ा, जुर्माना वसूला, 60 से अधिक लोगों के बनाए चालान, 8 हजार रुपए का जुर्माना वसूला

By: Gopal Joshi

Published: 03 Dec 2019, 11:42 AM IST

खरगोन.
पॉलीथिन पर प्रतिबंध के बाद भी लोग इसका उपयोग धड़ल्ले से कर रहे हैं। खुले में कचरा फेंका जा रहा है। ऐसे लोगों पर नकेल कसने के लिए सोमवार को नगरपालिका की टीम दोपहर 2.30 बजे शहर में निकली। प्रमुख चौराहों व मोहल्लों में पड़ताल की गई। इस दौरान 60 से ज्यादा लोग ऐसे मिले जो या तो चोरी छूपे खुले में कचरा फेंंकते मिले या पॉलीथिन का उपयोग करते मिले। टीम ने ऐसे लोगों के चालान बनाए और 8 हजार रुपए का जुर्माना भी वसूला।
नगरपालिका के उपयंत्री शैलेंद्र लौधी ने बताया खुले में कचरा फेंकना प्रतिबंधित है। इसके अलावा पॉलीथिन के उपयोग पर भी बैन लगा है। इसके बाद भी कुछ लोग इसका उपयोग कर रहे हैं। इसी कड़ी में सीएमओ निशिकांत शुक्ला के निर्देशन में सोमवार दोपहर करीब 2.30 बजे टीम शहर में सर्चिंग के लिए निकली। टीम ने बस स्टैंड, सब्जी मंडी, गायत्री मंदिर तिराहा, जवाहर मार्ग पर ऐसे लोगों को पकड़ा जो खुले में कचरा फेंकते हैं और पॉलीथिन का उपयोग करते हैं। टीम सदस्यों ने इनसे पॉलीथिन जब्त की और खुले में फेंका कचरा भी उठवाया। उपयंत्री ने बताया ऐसे 60 से ज्यादा लोगों के चालान बनाकर उनसे जुर्माना वसूला गया। यह कार्रवाई आगे भी जारी रहेगी।

अब भी जारी है पॉलीथिन का उपयोग
सख्ती के बाद भी शहर में अमानक स्तर की पॉलीथिन का उपयोग जारी है। मोहल्लों में फेरी लगाने वाले अब भी सामान पॉलीथिन में दे रहे हैं। नगरपालिका से बचने के लिए व्यापारियों ने पॉलीथिन छुपाने की नई जुगत भी कर ली है। ऐसे लोग साथ में एक पानी का डिब्बा रखते हैं और इसमें पानी के साथ पॉलीथिन छुपाते हैं।

होटलों पर अमानक डिस्पोजल का उपयोग
कई होटलों में ग्राहकों को चाय देने के लिए अमानक स्तर के डिस्पोजल उपयोग किए जा रहे हैं। बावड़ी बस स्टैंड की होटल व दुकानों पर इसका उपयोग बदस्तूर जारी है। यह ग्राहकों के लिए हानिकारक है।

कार्रवाई जारी रहेगी
-खुले में कचरा फेंकने व पॉलीथिन का उपयोग करने वालों पर कार्रवाई जारी रहेगी। जिन होटलों में अमानक स्तर के डिस्पोजल उपयोग किए जा रहे हैं उन्हें भी पकड़ेंगे। -निशिकांत शुक्ला, सीएमओ खरगोन

Gopal Joshi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned