यहां यूरिया के लिए नौनिहालों को भी करना पड़ रही है मशक्कत

यूरिया लेने के लिए लाइन में किसानों के साथ बच्चे भी, फिर भी नहीं मिल रहा
-दो बोरी यूरियों के लिए लोग घंटों कतार में खड़े होकर कर रहे इंतजार

खरगोन.
जिले के किसानों की परेशानियां खत्म होने का नाम नहीं ले रही हैं। फसल बेचने के लिए लाइन। उपज का दाम लेने के लिए लाइन। रजिस्ट्रेशन के लिए लाइन और अब यूरिया लेने के लिए भी उन्हें लंबी-लंबी कतारों में खड़े होकर धक्के खाने पड़ रहे हैं। खेती का काम छोड़कर किसान घंटों लाइनों में ही खड़ा नजर आ रहा है। गुरुवार को भी कृषि उपज मंडी यूरिया के लिए पहुंचे किसानों की लंबी कतारें लगी नजर आईं। इस दौरान उनके साथ बच्चे भी लाइन में लगे। उधर, कृषि विभाग के अनुसार जिले में यूरिया की आपूर्ति लगातार कराई जा रही है।
कृषि उपज मंडी स्थित गणेश मार्केटिंग संस्था गोदाम के बाहर गुरुवार को भी यूरिया के लिए किसानों की लाइन लगी। कतार में लगे किसान प्यारसिंग, रूमसिंग, शिवराम ने बताया सुबह 6 बजे से यूरिया के लिए कतार में लगे हैं। पहले वे सब विपणन संघ के गोदाम पर पहुंचे। यहां से उन्हें गणेश मार्केटिंग के गोदाम पर भेजा गया। यहां सुबह 11 बजे कार्यालय खुलने के बाद यूरिया वितरण शुरू हुआ। सुबह से दोपहर 12 बजे तक सैंकड़ों किसानों के साथ महिलाएं, युवतियां यहां तक की बच्चे भी कतार में लग चुके थे। किसानों ने बताया इस समय खेतों में यूरिया का छिड़काव करना जरूरी है, ताकि फसल से पैदावाद अच्छी हो सके। लेकिन यूरिया नहीं मिल रहा। अभी तक किसानों की इस समस्या पर किसी को ध्यान नहीं गया है। इसके कारण किसान हर रोज खाद के लिए परेशान हो रहे हैं और घंटों लाइन में खड़े रहने के बाद भी यूरिया व खाद नहीं मिल पा रही है। कई किसानों को दो से तीन चक्कर लगाने पड़े हैं। किसानों के अनुसार खुले बाजार में भी उन्हें यूरिया नहीं मिल रहा।

अफसरों का दावा- पर्याप्त स्टॉक
उधर, प्रशासन और कृषि विभाग के अफसरों का दावा है कि यूरिया का पर्याप्त स्टॉक है। लगातार नई रैक भी आ रही हैं। इन सबके बावजूद भी किसानों की डिमांड की पूर्ति नहीं हो पा रही है। शायद ही ऐसा कोई केंद्र हो जहां किसान को यूरिया आसानी से मिल गया है।

Gopal Joshi
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned