scriptThe family going by scooty was trampled by the dumper, mother-son died | स्कूटी से जा रहे परिवार को डंपर ने रौंदा, मां-बेटे की मौके पर मौत | Patrika News

स्कूटी से जा रहे परिवार को डंपर ने रौंदा, मां-बेटे की मौके पर मौत

हादसे में हताहत परिवार राजपुर विधायक बाला बच्चन के रिश्तेदार

खरगोन

Published: April 22, 2022 10:35:01 pm

खरगोन. खरगोन-जुलवानिया रोड पर बरुड़ फाटे के समीप शुक्रवार को स्कूटी से जा रहे परिवार को तेज रफ्तार पिकअप ने टक्कर मार दी। इसके बाद पीछे से आ रहा डंपर उनके ऊपर चढ़ गया। इस हादसे में मौके पर मां और बेटे की मौत हो गई। वहीं बाइक चला रहा परिवार का मुखिया घायल हो गया। हादसे में हताहत परिवार राजपुर विधायक और पूर्व गृहमंत्री बाला बच्चन के रिश्तेदार हैं। घटना के बाद अस्पताल में परिजनों की भीड़ जमा हो गई।
Road accident
पीएम रूम के बाहर विलाप करते दिनेश और परिवार की महिलाएं।

पुलिस से प्राप्त जानकारी के अनुसार शहर के महालक्ष्मी टॉउनशिप निवासी दिनेश बच्चन (45), पत्नी ग्यारसीबाई (40) और बेटा त्रिवेश (6) स्कूटी पर सवार होकर सुबह करीब 9 बजे खरगोन से निकले थे। सात किमी दूर बरुड़ फाटे तक पहुंचे। जहां पीछे से आ रहे पिकअप ने बाइक को टक्कर मार दी। बैलेंस बिगडऩे से तीनों गिर पड़े। मां और बेटा सड़क पर गिरे, उसी वक्त पीछे से डंपर आ गया और दोनों को कुचलते हुए निकल गया। हादसे में दिनेश को भी चोटें लगी हंै। परिवार मूलरूप से बड़वानी जिले के कासेल (राजपुर) का रहने वाला है। राहगीरों ने डायल 100 को सूचना देकर मौके पर बुलाया। जिसके बाद उन्हें अस्पताल लाया गया। पीएम के बाद शवों को लेकर परिजन एंबुलेंस से कासेल पहुंचे। जहां अंतिम संस्कार किया गया। दिनेश पूर्व गृह मंत्री बाला बच्चन का चचेरा भाई है।

उपस्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ थी महिला
दिनेश मडवाड़ी प्राथमिक स्कूल में शिक्षक है, तो पत्नी ग्यारसीबाई डालकी में उपस्वास्थ्य केंद्र में एनएनएम के रूप में पदस्थ थीं। दोनों रोज की तरह ड्यूटी पर जाने के लिए खरगोन से निकले थे। बरुड़ फाटे पर दिनेश ने जैसे ही स्कूटी को मोड़ा, वैसे ही पिकअप ने आकर टक्कर मार दी। साइड में गिरने से दिनेश बच गया और मां व बेटा सड़क पर गिरने से डंपर की चपेट में आ गए। रिश्तेदारों ने बताया कि गुरुवार को टीकाकरण के लिए ग्यारसीबाई की ड्यूटी थीं। खरगोन में कफ्र्यू के चलते स्कूल बंद होने से पति-पत्नी अपने इकलौते बेटे को साथ लेकर निकले थे। बेटे और पत्नी की मौत से पिता सहित दादी और अन्य रिश्तेदारों का रो-रोकर बुरा हाल हो गया था।

बेसुध हो गया दिनेश
घायल दिनेश को जब पता चला कि पत्नी और बेटा अब इस दुनिया में नहीं रहे, तो वह दहाड़े मार रोने लगा। कई बार बेसुध हो गया। रिश्तेदारों व दोस्तों ने उसे पानी पिलाया और संभाला। मृतका की दो बेटियां है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

नाइजीरिया के चर्च में कार्यक्रम के दौरान मची भगदड़ से 31 की मौत, कई घायल, मृतकों में ज्यादातर बच्चे शामिल'पीएम मोदी ने बनाया भारत को मजबूत, जवाहरलाल नेहरू से उनकी नहीं की जा सकती तुलना'- कर्नाटक के सीएम बसवराज बोम्मईमहाराष्ट्र में Omicron के B.A.4 वेरिएंट के 5 और B.A.5 के 3 मामले आए सामने, अलर्ट जारीAsia Cup Hockey 2022: सुपर 4 राउंड के अपने पहले मैच में भारत ने जापान को 2-1 से हरायाRBI की रिपोर्ट का दावा - 'आपके पास मौजूद कैश हो सकता है नकली'कुत्ता घुमाने वाले IAS दम्पती के बचाव में उतरीं मेनका गांधी, ट्रांसफर पर नाराजगी जताईDGCA ने इंडिगो पर लगाया 5 लाख रुपए का जुर्माना, विकलांग बच्चे को प्लेन में चढ़ने से रोका थापंजाबः राज्यसभा चुनाव के लिए AAP के प्रत्याशियों की घोषणा, दोनों को मिल चुका पद्म श्री अवार्ड
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.