जब रेत माफियाओं के पीछे एसडीएम ने लगाई दौड

जब रेत माफियाओं के पीछे एसडीएम ने लगाई दौड

Hemant Jat | Publish: Jan, 14 2019 10:23:29 PM (IST) Khargone, Khargone, Madhya Pradesh, India

कुंदा नदी से धड़ल्ले से हो रहा अवैध उत्खनन, सूचना पर पुलिस के साथ पहुंचे अफसर, अधिकारियों को चकमा देकर भाग खड़े हुए खनन माफिया

खरगोन.
शहर से होकर गुजर रही कुंदा नदी से अवैध रेत का उत्खनन और परिवहन धड़ल्ले से हो रहा है। दिनरात मशीनों से रेत निकाली जा रही है। जिसके चलते नदी में जगह-जगह गड्ढे हो गए हैं। इनके कारण कई हादसे हो चुके हैं। शुक्रवार को अवैध उत्खनन की सूचना मिलने पर एसडीएम अभिषेक गेहलोत और तहसीलदार आरसी खतेडिया, पटवारी और पुलिस जवानों के साथ मौके पर पहुंचे। यहां नदी में मशीनों से बेखौफ तरीके से रेत निकाली जा रही थी। अफसरों ने यह देखकर खननकर्ताओं को पकडऩे के लिए दौड़ लगा दी। जिन्हें देकर खननकर्ता भाग खड़े हुए। राजस्व अमले द्वारा उक्त कार्रवाई ओरंगपुरा क्षेत्र में बड़घाटेश्वर और ईदगाह के पास की गई। इस दौरान करीब आठ ट्रैक्टर-ट्रॉली औन चार जेसीबी जब्त की गई। यहां अधिकारियों को चकमा देकर भाग निकले। बाद में वाहनों को थाने लाकर खड़ा किया गया।

पत्थरों पर कूदते-फांदते पहुंचे अधिकारी
एसडीएम सहित राजस्व अमला जब ओरंगपुरा क्षेत्र में पहुंचा, तो नदी के अंदर मशीनों से रेत निकाली जा रही थी। यह रेत ट्रैक्टरों में भरी जा रही थी। इसे देखकर अफसरों ने दौड़ लगा दी। अधिकारी पानी के बीच पत्थरों पर कूदते-फांदते हुए मौके पर पहुंचे। जिन्हें देकर खननकर्ता भी भाग खड़े हुए। इस दौरान पुलिस जवान ने एक जेसीबी के ड्राइवर को दौड़कर पकड़ लिया। इसे जेसीबी चलाकर थाने चलने को बोला। लेकिन चालक बहाना बनाकर नीचे उतारा और अपनी बाइक लेकर भाग गया।

दो घंटे की मशक्कत के बाद थाने लाए
कार्रवाई के दौरान ट्रैक्टर-ट्रॉली और जेसीबी को थाने पर लाने के लिए अफसरों को परेशान होना पड़ा। एक जेसीबी के ड्राइवर ने बैटरी और इंजन के तार खोल दिए थे। इसके चलते यह काफी देर तक चालू नहीं हुई। अफसरों ने नपा के जेसीबी और ट्रैक्टर चालकों को बुलाकर वाहनों को चालू किया और जैसे-तैसे थाने लेकर पहुंचे।

दिन के उजाले में अवैध उत्खनन
शहर में कुंदा नदी से अवैध रेत का उत्खनन दिन बेखौफ तरीके से किया जा रहा है। इसमें खननकर्ताओं को प्रशासन की कार्रवाई का जरा भी डर नहीं है। यही कारण है कि दिन के उजाले में मशीनों से रेत निकालकर शहर में बेची जा रही है। सूत्रों की मानें तो प्रतिदिन लगभग सौ ट्रैक्टर ट्रॉली रेत सप्लाई हो रही हैं। यह रेत ३००० से ४००० रुपए बेची जा रही है। जिसमें प्रशासन को भी राजस्व का नुकसान हो रहा है। खनिज विभाग का इस ओर जरा भी ध्यान नहीं है।

करेंगे राजसात
ओरंगपुरा क्षेत्र में अवैध उत्खनन की सूचना मिलने पर कार्रवाई की गई। इस दौरान आठ ट्रैक्टर-ट्रॉली और चार जेसीबी जब्त की गई। पूर्व में तीन बार जो वाहन पकड़े गए थे। उन्हें राजसात करने की कार्रवाई की जाएगी।
अभिषेक गेहलोत, एसडीएम खरगोन

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned