scriptThere was lack of coordination between the officers in the riots | दंगे में अफसरों के बीच तालमेल की रही कमी, नए कलेक्टर-एसपी ने आते ही कहा- रात दो बजे भी जाना पड़े तो साथ में जाएं | Patrika News

दंगे में अफसरों के बीच तालमेल की रही कमी, नए कलेक्टर-एसपी ने आते ही कहा- रात दो बजे भी जाना पड़े तो साथ में जाएं

-एसपी कलेक्टर ने पुलिस व राजस्व विभाग की ली संयुक्त बैठक, बोले- विश्वास के साथ आगे बढ़े, सिस्टम आपके साथ है

खरगोन

Updated: May 23, 2022 08:23:27 am

खरगोन.
बीते माह हुई हिंसा में प्रशासनिक तालमेल न होने के कारण दो लाख आबादी वाला शहर अव्यवस्थाओं से जुझता रहा। अफसर समय पर ठोस निर्णय नहीं ले पाए। कई इलाकों में भ्रमण तक नहीं किया गया। कफ्र्यू हटने के बाद प्रशासनिक सर्जरी में कलेक्टर अनुग्रहा पी. और एसपी सिद्धार्थ चौधरी का तबादला हो गया है। नए कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम और एसपी का पद धर्मवीरसिंह यादव ने लिया है। दोनों ही अफसरों ने दंगे के फीडबैक लिए। इसके बाद पुलिस व राजस्व अमले की संयुक्त बैठक बुलाई। दोनों अफसरों ने बीते माह प्रशासन की हुई चूक से सबक लेकर जमीनी स्तर पर काम करने वाले अफसरों को निर्देश दिए कि तालमेल बैठाकर रखे। कोई कन्फ्यूजन नहीं होना चाहिए। रात दो बजे भी जाना पड़े तो साथ मिलकर जाए। जनता की सुरक्षा पहली प्राथमिकता है। इसमें कोई चूक नहीं हो।
बैठक के दौरान राजस्व और पुलिस अधिकारियों से फील्ड के बारे में ओपन फोरम रखा। जिसमें अधिकारियों में वर्तमान समय में संबंधित क्षेत्र में चल रही गतिविधियों के बारे में भी जाना। साथ ही उन मामलों को कैसे डील किया जाएगा, उसके लिए आवश्यक टिप्स भी बताएं। बैठक में अपर कलेक्टर एसएस मुजाल्दा, एडिशनल एसपी मनीष खत्री, आरआई रेखा रावत सहित सभी एसडीएम, एसडीओपी सहित थाना प्रभारी और उपनिरीक्षक व अन्य अमला उपस्थित रहा।
There was lack of coordination between the officers in the riots
खरगोन. राजस्व व पुलिस अफसरों की बैठक लेते कलेक्टर कुमार पुरुषोत्तम व व एसपी धर्मवीरसिंह यादव।
कलेक्टर बोले- भ्रमण, संवाद और एक्सरसाइज समय रहते करें
कलेक्टर ने दोनों विभागों के अधिकारियों से कहा सही काम को पूरे विश्वास के साथ करें। इसके लिए दोनों विभागों के अधिकारी फ्री हेंड है। उद्देश्य साफ होना चाहिए। विश्वास के साथ आगे बड़े अच्छे काम के लिए हम साथ रहेंगे। साथ ही अवैध गतिविधियों पर लगाम लगनी चाहिए चाहे वो जुआ हो, सट्टा हो या नशा हो इन पर कसावट होनी चाहिए। भ्रमण, संवाद और एक्सरसाइज समय पर करें।
एसपी ने कहा- फास्ट कम्युनिकेशन रखें, फ्रक्वेंसी में आएं
एसपी ने पुलिस अधिकारियों को प्राथमिकताएं बताई। उन्होंने कहा सभी पुलिस अधिकारियों का राजस्व के अधिकारियों के साथ समन्वय उच्चस्तर का होना चाहिए। चुनावी तैयारियों को लेकर कहा- अब हमें दिन नहीं घंटे में समय मिलेगा। इसी में सब कुछ करना है इसलिए चौकन्ने हो जाएं। फास्ट कम्युनिकेशन रखें, फ्रक्वेंसी में आए।
आपकी फाइल में हो मतदान केंद्रों की प्रोफाइल
एसपी ने कहा- आपके लिए हम फ्रंट पर रहेंगे। प्रत्येक थाना प्रभारी के पास मतदान केंद्र की पूरी प्रोफाइल होना चाहिए। संबंधित क्षेत्र में अवैध शराब, हथियार अपराध करने वाले अच्छे और बुरे लोगों की जानकारी भी रखें। फील्ड में विवाद हुए है तो बाउंड ओवर के प्रस्ताव बनाएं। सभी टीआई कलम चलाएं और शराब की धर पकड़, जिला बदर के प्रकरण देखें और उनकी जानकारी दें।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीज्योतिष: बुध का मिथुन राशि में गोचर 3 राशि के लोगों को बनाएगा धनवानपैसा कमाने में माहिर माने जाते हैं इस मूलांक के लोग, तुरंत निकलवा लेते हैं अपना कामजुलाई में चमकेगी इन 7 राशियों की किस्मत, अपार धन मिलने के प्रबल योगडेली ड्राइव के लिए बेस्ट हैं Maruti और Tata की ये सस्ती CNG कारें, कम खर्च में देती हैं 35Km तक का माइलेज़ज्योतिष: रिश्ते संभालने में बड़े कच्चे होते हैं इस राशि के लोगजान लीजिए तुलसी के इस पौधे को घर में लगाने से आती है सुख समृद्धिहाथ में इन निशान का होना मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होने का माना जाता है संकेत

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: फ्लोर टेस्ट के खिलाफ शिवसेना की अर्जी सुप्रीम कोर्ट में मंजूर, आज शाम 5 बजे होगी सुनवाईMaharashtra Political Crisis: 30 जून को फ्लोर टेस्ट के लिए मुंबई वापस पहुंचेगा शिंदे गुट, आज किए कामाख्या देवी के दर्शनMumbai News Live Updates: असम के मुख्यमंत्री राहत कोष में 51 लाख रुपए का योगदान करेंगे बागी विधायकनवीन जिंदल को भी कन्हैया लाल की तरह जान से मारने की मिली धमकी, दिल्ली पुलिस से की शिकायतउदयपुर हत्याकांड को लेकर बोले मुख्यमंत्री: कहा- 'हर पहलू को ध्यान में रखकर होगी जांच, कहीं कोई अंतरराष्ट्रीय लिंक तो नहीं'Udaipur Murder Case: राजस्थान में एक माह तक धारा 144, पूरे उदयपुर में कर्फ्यू, जानिए अब तक की 10 बड़ी बातेंMohammed Zubair’s arrest: 'पत्रकारों को अभिव्यक्ति के लिए जेल भेजना गलत', ज़ुबैर की गिरफ्तारी पर बोले UN के प्रवक्ता1 जुलाई से बैन: अमूल, मदर डेयरी को नहीं मिली राहत, आपके घर से भी गायब होंगे ये समान
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.