शवदाह के लिए अब लकड़ी-कंडों के लिए नहीं भटकना होगा, मुक्तिधाम में ही होगी व्यवस्था

जिनका कोई नहीं, ऐसे निराश्रित शवों के दाह संस्कार में नि:शुल्क देंगे सामग्री

By: harinath dwivedi

Published: 28 May 2021, 11:28 AM IST

खरगोन. शवदाह में उपयोग होने वाली लकड़ी और कंडों के लिए अब लोगों को जुझना नहीं पड़ेगा। यह व्यवस्था अब मुक्तिधाम पर ही की गई है। इसका जिम्मा मुक्तिधाम सेवा समिति ने लिया है। समिति सदस्यों ने यह भी बताया कि यदि कोई निराश्रित है, उसका कोई नहीं है और मृत्यु हो गई है तो ऐसे शव के दाह संस्कार के लिए समिति यह सामग्री निशुल्क उपलब्ध कराएगी।
मुक्ति धाम सेवा समिति के लोकेन्द्र सोलंकी ने बताया शासन की गाइड लाइन के अनुसार शवदाह में केवल 5 लोग ही मुक्तिधाम जा सकेंगे। इस बात को ध्यान में रखते हुए और मृतक के परिवार वालों को कोरोना महामारी में अनावश्यक लकड़ी कंडे के लिए इधर-उधर भटकना न पड़े, इसके लिए मुक्ति धाम सेवा समिति ने यह निर्णय लिया कि दाह संस्कार के लिए अब मुक्तिधाम में ही बाजार मूल्य पर लकड़ी, कंडे की व्यवस्था होगी।
समिति के सदस्यों ने यह भी निर्णय लिया कि अगर किसी व्यक्ति का कोई सहारा नहीं है। उसकी मौत हो जाती है तो दाह संस्कार में उपयोग होने वाली लकड़ी व कंडे निशुल्क दिए जाएंगे। गुरुवार को बेबी दांगी के अंतिम संस्कार के लिए मुक्तिधाम सेवा संगठन द्वारा निशुल्क मुखाग्नि के लिए लकड़ी व कंडे निशुल्क दिए गए।

harinath dwivedi Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned