scriptNew parents join a movement for babies and themselves: Hiking | भारतीय की मुहिम ने 2 लाख परिवारों को जोड़ा प्रकृति से | Patrika News

भारतीय की मुहिम ने 2 लाख परिवारों को जोड़ा प्रकृति से

locationजयपुरPublished: Sep 23, 2019 07:16:06 pm

Submitted by:

Mohmad Imran

भारतीय की मुहिम ने 2 लाख परिवारों को जोड़ा प्रकृति से
-प्रकृति जुड़ाव के लिए नए माता-पिता बच्चों संग कर रहे हाइकिंग
-शांति होजेज की 'हाइक इट बेबी' मुहिम का उद्देश्य बच्चों को प्रकृति में मौजूद वनस्पति और जीव-जंतुओं के साथ मिलकर रहना सिखाना है

भारतीय की मुहिम ने 2 लाख परिवारों को जोड़ा प्रकृति से
भारतीय की मुहिम ने 2 लाख परिवारों को जोड़ा प्रकृति से
प्रकृति अपने तय नियम के तहत मौसम और जलवायु के बीच सफर तय करती है। इंसान भी इस सफर का एक हिस्सा है। यही कारण है कि हमें प्रकृति का सम्मान करना चाहिए। पर्यावरण को मानव विकास से हुए नुकसान और बच्चों की प्रकृति से बढ़ती दूरी ने नए माता-पिताओं को चिंता में डाल दिया है। इसी चिंता का समाधान है 'हाइक इट बेबी' मुहिम। यह जंगलों, पहाड़ों और प्राकृतिक स्थलों में घूमने वालों का एक ऐसा समूह है जो अपने साथ बच्चों को भी लेकर चलते हैं ताकि वे भी प्रकृति के विभिन्न रंग-रूप से परिचित हो सकें। इस मुहिम की शुरुआत 45 वर्षीय भारतीय मूल की शांति होजेज ने की थी। आज इस समूह में 2 लाख से ज्यादा परिवार शामिल हैं। अमरीका के उटाह राज्य की निवासी शांति का ६ साल का बेटा मैसन जंगल या पहाड़ों में हाइकिंग के समय किसी भी वनस्पति या जीव-जंतु की प्रजाति का नाम पलक छपकते ही बता देता है। उसकी जानकारी बड़ों को भी चकित कर देती है। लेकिन मैसन पर्यावरण के महत्तव को भी समझता है और वह प्रकृति के दिए संसाधनों के प्रति जागरूक भी है। यही वह खास बात है जो इस ग्रुप को अन्य हाइकिंग ग्रुप से अलग बनाती है। 'हाइक इट बेबी' मुहिम की शुरुआत भी मैसन की पैदाइश के तुरंत बाद ही हुई थी। दरअसल, शांति को हाइकिंग से बेहद प्यार था लेकिन मां बनने के बाद वे जिम्मेदारी के चलते घर तक ही कैद होकर रह गई थीं।
Copyright © 2023 Patrika Group. All Rights Reserved.