crime : सूने मकान में चोरों ने दिखाए हाथ, नकदी, चांदी और वाहन चोरी

वारदात

करीब चार महीने से सूना था मकान

मदनगंज-किशनगढ़ (अजमेर).

नगर में चोरी की वारदातें रूकने का नाम नहीं ले रही है। प्रगति नगर क्षेत्र में एक सूने मकान में चोरी का मामला सामने आया है। चोर मकान से नकदी, चांदी और एक स्कूटी ले गए।
दगड़ू सोनी करीब चार महीनों से अपने बेटे के पास (सूरत) गुजरात गए हुए थे। गुरुवार सुबह वह घर लौटे तो उन्हें घर के ताले टूटे मिले और सामान बिखरा मिला। उन्होंने इसकी सूचना मदनगंज थाने में दी। इस पर हैड कॉस्टेबल संदीप सिंह मय जाप्ता मौके पर पहुंचे।

आराम से की वारदात

चोरों ने आराम से वारदात को अंजाम दिया। वे घंटों मकान में रहे। चोरों ने दगड़ू सोनी के मकान में हर कमरे की तलाशी ली। चोरों ने डिब्बों में एक-एक सामान निकाल कर बिखेर दिया। करीब-करीब उन्होंने हर अटेची, डिब्बे, कार्टन की तलाशी ली। उन्होंने घर के कमरों में रखी अलमारियों, पलंग में रखा सामान फैला दिया। फ्रीज को भी टटोला। उन्होंने इलेक्ट्रोनिक सामानों से भी छेड़छाड़ की।

सूखे मेवे खाए

चोरों ने घर में सूखे मेवे भी खाए। इस दौरान टीवी से भी छेड़छाड़ की। चोरों ने गाने भी सुने। चोर हजारों रुपए नकद और चांदी के सिक्के व अन्य सामान लेकर चले गए।

नहीं दी शिकायत

वारदात के घंटों बाद भी पीडि़त पक्ष में मामले की थाने में शिकायत नहीं दी। जानकारी के अनुसार पीडि़त पक्ष की ओर से चोरी गए सामान की लिस्ट बनाकर शिकायत दी जाएगी।

लम्बे समय से खाली पड़ा है घर

दगड़ू सोनी परिवार सहित करीब चार महीनों से सूरत गए हुए हैं। इस दौरान उनका मकान सूना रहा। मकान के पास वाला प्लॉट भी खाली है। एक अन्य मकान भी सूना पड़ा है, इसलिए वारदात का पता नहीं लगा।

सक्रिय हैं चोर

नगर में बीते कुछ समय से चोरी का वारदातें बढ़ गई हैं। लेकिन पुलिस की ओर से किसी वारदात का खुलासा नहीं हो पाया है। मामले में रोचक पहलू यह भी है कि अधिकतर वारदात अजमेर रोड स्थित कॉलोनियों में हुई हैं।

Narendra
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned