मुय बाजार से हटेंगे विद्युत तार और खंभे

मुय बाजार से हटेंगे विद्युत तार और खंभे

Kali Charan kumar | Updated: 10 Aug 2019, 11:50:28 AM (IST) Kishangarh, Ajmer, Rajasthan, India

विद्युत निगम ने तैयार की योजना
तीन करोड़ के खर्च का अनुमान

मदनगंज-किशनगढ़. विद्युत निगम ने मुय बाजार की विद्युत लाइनों को भूमिगत किए जाने की योजना तैयार की है। इस योजना के अंतर्गत पुराने बस स्टैंड से पुरानी मिल चौराहा और सुमेर क्लब तक विद्युत लाइनों को भूमिगत किया जाएगा। इससे मुय बाजार में विद्युत तारों का जाल कम होगा और साथ ही सौंदर्यीकरण भी होगा।
विद्युत निगम की ओर से नगर के मुय बाजार के हिस्से पुराने बस स्टैंड से पुरानी मिल चौराहा और वहां से सुमेर क्लब तक विद्युत खंभों और लाइनों को भूमिगत किए जाने की योजना बनाई है। इस पर लगभग सवा तीन करोड़ छह लाख के खर्च का अनुमान है। वर्तमान में इस हिस्से में 11 केवी लाइन 3 किलोमीटर और घरेलू लाइनें साढ़े 4 किलोमीटर है। इन सभी को योजना को स्वीकृति मिलने पर भूमिगत किया जाएगा।
लगभग 4 हजार कनेक्शन
इस क्षेत्र में 18 ट्रांसफार्मर और लगभग 4000 कनेक्शन है। विद्युत लाइनों को भूमिगत किए जाने पर ट्रांसफार्मरों को विशेष स्टैंड बनाकर लगाया जाएगा ताकि जगह कम घेरे। विद्युत लाइनों को भूमिगत किए जाने पर घरेलू और वाणिज्यिक कनेक्शन देने के लिए हर 30 मीटर पर बाक्स बनाए जाएंगे। सभी कनेक्शन धारकों को इन बॉक्स से ही भूमिगत कनेक्शन दिए जाएंगे।
आपूर्ति में हो सकेगा सुधार
विद्युत लाइनों को भूमिगत करने पर कम फाल्ट होंगे। बरसात और खराब मौसम में कम व्यवधान होने से आपूर्ति की गुणवत्ता में बढ़ोत्तरी होगी। इससे विद्युत उपभोक्ताओं को नियमित आपूर्ति संभव हो सकेगी।
होगा सौंदर्यीकरण
मुय बाजार के विद्युत तारों को भूमिगत करने और खंभों को हटाए जाने से सौंदर्यीकरण को बढ़ावा मिलेगा। कई जगह विद्युत तारों का जाल हटाया जाएगा। इससे विद्युत आपूर्ति के व्यवधान हट जाएंगे।
डक्टिंग सिस्टम की जरूरत
नगर में पक्के डक्टिंग सिस्टम की जरूरत है। हर पांच-छह माह में केबल बिछाए जाने के लिए खुदाई होती रहती है। इससे सड़कों को काफी नुकसान होता है और आवागमन में भी परेशानी होती है। वहीं सड़कों की मरात में समय लगने से नगरवासी परेशान होते है। डक्टिंग सिस्टम बना दिया जाए तो बार-बार खुदाई की समस्या से निजात मिल जाए। साथ ही विद्युत केबल और संचार केबलों का रखरखाव भी आसान रहेगा।
इनका कहना है-
पुराने बस स्टैंड से पुरानी मिल चौराहा तक और वहां से समुेर क्लब तक विद्युत लाइनों को भूमिगत किए जाने की योजना बनाई है। इस पर करीब तीन करोड़ 6 लाख रुपए का खर्च होगा।
-देवेंद्र कुमार मीणा, सहायक अभियंता, विद्युत निगम, किशनगढ़।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned