मुम्बई से आए पिता-पुत्र कोरोना संक्रमित

एक पुत्र की जांच रिपोर्ट नेगेटिव

पत्नी समेत परिवार के सात सदस्य होम क्वॉरंटीन

By: Narendra

Updated: 21 May 2020, 01:33 AM IST

मदनगंज-किशनगढ़ (अजमेर).

मुम्बई से आए पिता-पुत्र की कोरोना जांच रिपोर्ट बुधवार दोपहर को पॉजिटिव आई है, जबकि एक पुत्र की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है। पॉजिटिव पिता-पुत्र को अजमेर जवाहलाल नेहरू चिकित्सालय भर्ती कर दिया गया। जिस पुत्र की जांच रिपोर्ट नेगेटिव मिली उसे फेसिलिटी क्वॉरंटीन सेंटर में रखा गया है। कोरोना पॉजिटिव की पत्नी समेत परिवार के सात सदस्यों को होम क्वॉरंटीन किया गया है। प्रशासन ने कोरोना पॉजिटिव व्यक्ति के घर के आस-पास करीब 200 मीटर की परिधि में आवागमन पर पूर्णत: पाबंदी लगा दी है। मुख्य मार्ग पर घर होने की वजह से क्षेत्र से गुजरने वाली सभी रास्तों को बंद कर दिया है।

पुरानी मिल तिराहा क्षेत्र के पास 40 वर्षीय युवक एवं एक 14 वर्षीय पुत्र की कोरोना जांच रिपोर्ट दोपहर को पॉजिटिव आई, जबकि 18 वर्षीय एक पुत्र की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। इसकी सूचना स्थानीय प्रशासन को दी गई और कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि होने के बाद यज्ञनारायण चिकित्सालय प्रबंधन ने पिता-पुत्र को तत्काल अजमेर के जेएलएन चिकित्सालय रवाना कर दिया। साथ ही युवक के 18 वर्षीय बड़े पुत्र की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आने से उसे लिंक रोड स्थित फेसिलिटी क्वॉरंटीन सेंटर भेज दिया। एसडीओ एवं प्रशिक्षु आईएएस देवेंद्र कुमार, तहसीलदार मोहनसिंह, डिप्टी गीता चौधरी, सीआई रोशनलाल मय जाब्ता के युवक के घर के पास क्षेत्र पहुंचे और मार्ग का निरीक्षण किया।

बच्चों को लेने गया था मुम्बई

40 वर्षीय युवक के दोनों पुत्र मुम्बई के गोरेगांव स्थित ननिहाल गए हुए थे। वह उन्हें लेने 20 मार्च को किशनगढ़ से मुम्बई गया था और 22 मार्च से प्रदेशभर में लॉकडाउन लागू हो गया। इससे युवक किशनगढ़ नहीं लौट सका। अब नियमों में ढील मिलने के बाद परिवार के सदस्यों ने किशनगढ़ से निजी वाहन मुम्बई भेजा और युवक अपने दोनों बच्चों को लेकर किशनगढ़ आया। वह 18 मई की रात को ही किशनगढ़ के पुरानी मिल तिराहे के पास सिटी रोड स्थित घर पहुंचा। मुम्बई से आने की वजह से वह दोनों बच्चों के साथ होम क्वॉरंटीन ही रहा। वह दोनों बच्चों के साथ 19 मई को सुबह जांच कराने के लिए यज्ञनारायण चिकित्सालय पहुंचा और मुम्बई से आने की बात कहते हुए जांच कराई। चिकित्सकों ने युवक समेत उसके दोनों पुत्रों के सैम्पल लिए और जांच के लिए भेज दिए। तीनों को अस्पताल में ही आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर दिया गया। तीनों की जांच रिपोर्ट अस्पताल प्रबंधन को बुधवार दोपहर को मिली। इनमें से युवक और इनके छोटे पुत्र की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव मिली है, जबकि बड़े पुत्र की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई।

मुम्बई में भी करा चुके हैं जांचें

कोरोना पॉजिटिव मिले युवक ने अपनी और दोनों बच्चों की गोरेगांव में भी जांचें कराई थी जो कि नेगेटिव रही। स्क्रीनिंग भी कराई थी। लेकिन वह तीनों पूरी तरह से स्वस्थ बताए गए।

निजी चिकित्सक के पास भी गया था युवक

मुम्बई से आए युवक ने यज्ञनारायण अस्पताल जाने से पहले पुराना शहर के एक निजी चिकित्सक के पास भी गया था। बताया जा रहा है कि युवक निजी चिकित्सक से दवा भी ली। यहां से वह पुन: घर आया और इसके बाद वह परिजन के साथ सरकारी हॉस्पिटल आया।

देर शाम तक चालक नहीं पहुंचा हॉस्पिटल

मुम्बई जाने के लिए किशनगढ़ के परिजन ने चमडाघर क्षेत्र के चालक को वाहन समेत मुम्बई भेजा था। कोरोना पॉजिटिव युवक अपने दोनों बच्चों एवं चालक के साथ मुम्बई से किशनगढ़ साथ आए थे। फिलहाल चालक हॉस्पिटल नहीं पहुंचा है और उसकी जांच के लिए सैम्पल भी नहीं लिए गए है। बुधवार देर शाम तक हॉस्पिटल प्रबंधन को उसके आने का इंतजार था ताकि उसकी जांच के लिए सैम्पल लिए जा सके।

Narendra Desk/Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned