मानसून की पहली बारिश, तालाब में आया पानी

भोजियावास तालाब में पानी की आवक होने से ग्रामीणों के खिले चेहरे
सरपंच और ग्रामीणों पत्रिका श्रमदान पर जताया

By: kali charan

Published: 07 Jul 2019, 11:07 AM IST

मदनगंज-किशनगढ़ हरमाड़ा और आस-पास के क्षेत्र में गुरुवार और शुक्रवार सुबह एवं शाम को हुई बारिश से भोजियावास तालाब में पानी की अच्छी आवक हो गई है। ग्रामीणों को बारिश में तालाब में अभी और अच्छे पानी की आवक होने की उमीद है। सालों बाद तालाब में पानी की आवक होने से ग्रामीण खासे खुश है। गांव के सरपंच एवं ग्रामीणों ने गत दिनों तालाब में राजस्थान पत्रिका के अमृत जलमं अभियान के तहत किए गए श्रमदान कार्य की सराहना की है और आभार भी जताया है।
मानसून की पहली दौर की बारिश से सालों से खाली पड़े भोजियावास तालाब में पानी की अच्छी आवक हो गए। राजस्थान पत्रिका के अमृतम् जलम् अभियान के तहत 19 मई को श्रमदान किया गया था। इसमें गांव के सरपंच मंगलाराम जाट समेत ग्रामीण महिलाओं और पुरुषों ने भरी दोपहरी में श्रमदान कर खुदाई कार्य किया था। ग्रामीणों ने तालाब की आवक में खुदाई कार्य के साथ ही कंटीली झाडिय़ां भी काटी थी। श्रमदान के बाद ग्रामीणों को इस बार अच्छी बारिश की आस करने लगे और मानसून की पहली बारिश में ग्रामीणों की आस पूरी हुई। पहले ही दौर की बारिश में तालाब में पानी छलने लगा। गौरतलब है कि भोजियावास का यह तालाब करीब 400 साल पुराना है। इसका निर्माण ग्राम बसने से पूर्व इधर से गुजरने वाले बंजारा समूह ने अपने उपयोग के लिए किया था। वे यहां अपनी बालद (सामान लदे मवेशी) रोकते थे एवं उनके चारा पानी की व्यवस्था के लिए यहां छोटा सा तालाब खोद कर तालाब की नींव रखी गई थी।
खुशी से खिले चेहरे
सरपंच मंगलाराम जाट ने बताया कि तालाब में पानी की आवक होने से ग्रामीण खासे खुश है। इससे न केवल गांव और आस पास के जलस्त्रोतों में पानी की आवक होगी, बल्कि मवेशियों के लिए भी पानी उपलब्ध होगा।

kali charan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned