kishanagrh-अब ओटीपी से होगा किसानों का पंजीयन

समर्थन मूल्य पर होनी है चने एवं सरसों की खरीद
कोरोना के चलते बायामेट्रिक पर फिलहाल लगाई रोक

By: kali charan

Published: 19 Mar 2020, 12:09 PM IST

मदनगंज-किशनगढ़.
समर्थन मूल्य पर चने और सरसों की खरीद के लिए किसानों का पंजीयन अब बायोमेट्रिक के स्थान पर अग्रिम आदेशों तक ओटीपी से होगा। कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम की दृष्टि से राजफैड की ओर से यह आदेश जारी किया गया है। अब अग्रिम आदेशों तक ओटीपी के आधार पर पंजीयन होगा औैर खरीद भी ओटीपी के आधार पर ही होगी। समर्थन मूल्य पर उपज बेचने की इच्छा रखने वाले किसानों के लिए सुबह 9 से पंजीकरण प्रक्रिया शुरू हो जाएगी और शाम 7 बजे तक पंजीकरण जारी रहेगा। यह पंजीकरण प्रक्रिया 31 मार्च तक चलेगी। जमाबंदी के आधार पर पंजीयन स्वीकार्य नहीं होंगे। किसानों को पंजीकरण से पहले आधार कार्ड में मोबाइल नंबर जुड़वाना सुनिश्चित करवाना होगा। एक किसान से अधिकतम 25 क्ंिवटल प्रति किसान लिया जाएगा। कृषि विभाग ने जिले में चना प्रति हेक्टेयर 1065 किलोग्राम और सरसो 1370 किलोग्राम प्रति हेक्टेयर पैदावार मानते हुए आंकड़े दिए है। चना एवं सरसों केंद्र सरकार की ओर से जारी गुणवत्ता मापदंडों के अनुसान पाया जाने पर ही खरीदा जाएगा। तुलवाई की दिनांक किसान को ऑनलाइन प्राप्त होगी। तुलवाई के समय फोटो भी खींची जाएगी और किसान को सभी दस्तावेज खरीद केंद्र पर लाने होंगे।
समर्थन मूल्य पर होगी खरीद
किशनगढ़ कृषि उपज मंडी स्थित क्रय विक्रय सहकारी समिति के खरीद केंद्र पर खरीद की जाएगी। इसके लिए चने का समर्थन मूल्य 4875 रुपए प्रति क्ंिवटल और सरसों का समर्थन मूल्य 4425 रुपए प्रति क्ंिवटल रहेगा।
इनका कहना है-
अग्रिम आदेशों तक बायोमेट्रिक प्रमाणन स्थगित किया गया है। फिलहाल ओटीपी के आधार पर ही पंजीकरण होगा।
-मंजू जैन, मुख्य कार्यकारी, किशनगढ़ क्रय-विक्रय सहकारी समिति लिमिटेड।

kali charan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned