kishangarh_44 दिन के बाद शर्तों के साथ आज से खुल सकेगी मार्बल मंडी

प्रशासनिक अधिकारियों एवं उद्यमियों ने चर्चा कर लिया निर्णय
चार घंटे की चर्चा के बाद बनी एकराय

By: kali charan

Updated: 05 May 2020, 11:40 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मदनगंज-किशनगढ़.
कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम के लिए उठाए गए लॉकडाउन के निर्णय के बाद अब 44 दिन बाद मंगलवार से एक बार फिर मार्बल मंडी में चहल पहल शुरू होगी। लेकिन मार्बल और ग्रेनाइड उद्यमियों को सरकार की गाइड लाइन और शर्ताे की पूरी तरह से पालना करनी होगी। सरकार की शर्तों की पालना के अनुरूप ही उद्यमी अपनी फैक्ट्री में उत्पादन शुरू कर सकेगा। यह निर्णय सोमवार को किशनगढ़ मार्बल एसोसिएशन कार्यालय में हुई प्रशासनिक अधिकारियों, पुलिस अफसर, रीको के अधिकारी एवं किशनगढ़ मार्बल एसोसिएशन की प्रबंध कार्यकारिणी की मीटिंग में लिया गया है। करीब 4 घंटे चली इस मीटिंग के बाद सभी शर्तांे के साथ फैक्ट्रियों में कारोबार संबंधित गतिविधियां शुरू करने का फैसला लिया गया। लेकिन साथ ही शर्तों के पुलिंदों से उद्यमियोंं के सामने कई प्रकार की समस्याएं भी रहेगी।
22 मार्च से मार्बल मंडी में लॉकडाउन के बाद सरकार की ओर से नवीन मॉडिफाइड लॉकडाउन की घोषणा के बाद मार्बल मंडी में कारोबार शुरू करने को लेकर मीटिंग की गई। सुबह 11 बजे शुरू हुई मीटिंग में एसडीओ एवं प्रशिक्षु आईएएस देवेंद्र कुमार ने राज्य सरकार के दिशा निर्देशों की जानकारी दी। एसडीओ ने कार्यस्थल पर, शहरी क्षेत्र में औद्योगिक गतिविधियंा चालू करने के लिए बरती जाने वाली प्रत्येक सावधानियां की जानकारी दी और उनकी पालना करने के बारे में समझाया।
इन शर्तों के साथ शुरू होगा कारोबार
मार्बल और ग्रेनाइट की फैक्ट्रियां खोलने एवं यहां पर उत्पादन शुरू करने को लेकर इन शर्तों के साथ कारोबार शुरू करने पर सहमति बनी।
-कोई भी उद्यमी अपनी फैक्ट्री में उत्पादन करने के लिए सरकार के निर्धारित दिशा निर्देशों की पालना करते हुए एवं अपनी फैक्ट्री के श्रमिकों से आपसी तालमेल से उत्पादन शुरू करना चाहे तो शुरू किया जा सकता है।
-उद्यमी को खुद को निर्णय लेना होगा कि फैक्ट्री में उत्पादन प्रारम्भ कर सकते हैं। श्रमिकों या स्टाफ के आने-जाने के लिए फैक्ट्री मालिक खुद के हस्ताक्षरित आधार कार्ड नम्बर एवं फोटोयुक्त के साथ अधिकतम 4 व्यक्तियों के लिए फैक्ट्री के लेटर हैड पर पास जारी कर सकेगा।
-यह स्वीकृति केवल उत्पादन शुरू करने वाले व्यापारियों के लिए लागू होगी।
-किशनगढ़ के समीपवर्ती जिलों से आने वाले तकनीकी कर्मियों को औद्योगिक क्षेत्र में प्रवेश के लिए पास जारी करने को लेकर संशय बना रहा और इस संदर्भ में जिला प्रशासन से मार्गदर्शन मांगा जाएगा। क्योंकि सरकार की गाइड लाइन में यह स्पष्ष्ट नहीं है।
इन्होंने किया विचार विमर्श
एसडीओ एवं प्रशिक्षु आईएएस देवेन्द्र कुमार, विधायक सुरेश टांक, डिप्टी गीता चौधरी, रीको लिमिटेड के क्षेत्रीय प्रबन्धक अंजय विष्वकर्मा, किशनगढ़ मार्बल एसोसिएशन अध्यक्ष सुधीर जैन, वरिष्ठ उपाध्यक्ष रमेश चांडक, राजेन्द्र गुप्ता, उपाध्यक्ष महावीर कोठारी (धरतीधन), महासचिव शशिकान्त पाटोदिया, सचिव आशीष गुप्ता, प्रदीप चांडक, कोषाध्यक्ष विनोद बांगड़, संगठन सचिव चेलाराम मुरावतिया, चैनाराम चौधरी, सहसचिव हरिराम चौधरी एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी सम्पतराय शर्मा मीटिंग में शामिल रहे।

kali charan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned