किशनगढ़ की गुंदोलाव झील का घटने लगा जल स्तर

झील के भराव क्षेत्र में कम होने लगा पानी
शहरी क्षेत्र में अच्छी बारिश का इंतजार

By: kali charan

Published: 11 Aug 2020, 08:11 PM IST

मदनगंज-किशनगढ़
किशनगढ़ के सौंदर्य का प्रतिक एवं अधिकांशत: पानी से लबालब भरी रहने वाली गुंदोलाव झील का जल स्तर अब कम होता नजर आ रहा है। गुंदोलाव झील के भराव एवं चादर की तरफ भी कम होते पानी का आभास किया जा सकता है। ऐसे में अब जल्द ही शहरी क्षेत्र में अच्छी बारिश का इंतजार है। ताकि गुंदोलाव झील के साथ ही आस पास के सभी जलाशयों में पानी की आवक हो गए और साथ ही भू जल स्तर में भी बढ़ोत्तरी हो।
सावन मास सूखा जाने के बाद अब भादव माह भी प्रथम सप्ताह लगभग पूरा होने को है और किशनगढ़ के शहरी और ग्रामीण क्षेत्र में अभी अच्छी बारिश नहीं हुई। अब सभी नगरवासियों को जल्द अच्छी बारिश होने की उम्मीद है। ताकि गुंदोलाव झील में घटते जल स्तर रूक जाए और झील में पानी की आवक हो। ताकि झील और आस पास का क्षेत्र सुंदर और मनोरम बना रहे। गत वर्ष परिक्षेत्र में अच्छी बारिश होने से झील में भी पानी की आवक हुई थी और झील का पानी ओवर फ्लो होने से कई दिनों तक झील की चादर से पानी बहता रहा। सालों बाद चादर चलती देख नगरवारियों की भीड़ एकत्र हो गई थी और कईयों ने इस समय को यादगार बनाने के लिए फोटोशुट भी करवाया। साथ ही अपने फोटो और वीडियो सोशल मीडिया पर भी शेयर किए। लेकिन यदि जल्द अच्छी बारिश नहीं होती है तो झील का पानी का जल स्तर और अधिक कम हो जाएगा।
पाल का नवनिर्माण हुआ
गुंदोलाव झील में बीते साल पानी की आवक अधिक हो गई थी और झील ओवर फ्लो होने की वजह से चादर भी चलने लगी थी। लेकिन पानी का अधिक दबाव बढऩे की वजह से सालों पुराने चादर से पानी का रिसाव भी होने लगा था। कई बार चादर के क्षतिग्रस्त होने की भी आशंका बनी रही। इसके चलते तत्कालीन एसडीओ श्यामा राठौड़ ने मौके का निरीक्षण कर परिषदकर्मियोंं से चादर की दीवार पर मिट्टी से भरे कट्टे भी लगवाए थे, ताकि चादर को किसी प्रकार से नुकसान ना हो। इसी आशंका को देखते हुए अब नगर परिषद की ओर से चादर का नव निर्माण और सौंदर्यकरण कर दिया गया है।
बंद हो गई नौकायान
झील में पानी की आवक अच्छी होने से बीते साले यहां नौकायान भी संचालित होने लगी थी। शहरवासियों ने नौकायान का लुत्फ भी उठाया। लेकिन कोरोना काल और झील में घटते पानी के स्तर के कारण नौकायान संचालित करने वाले ठेकेदार ने यह बंद कर दिया।

kali charan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned