ऐन वक्त पर पहुंची काढ़ा गांव में पुलिस, वर्ना हो जाता खुन खराबा

जमीनी विवाद के चलते दोनों पक्ष हुए थे आमने सामने

झगड़ा करते दो पक्षों के 15 जनों को किया गिरफ्तार

By: kali charan

Published: 08 Oct 2021, 10:30 AM IST

मदनगंज-किशनगढ़ ञ्च पत्रिका.
निकटवर्ती ग्राम काढ़ा में जमीनी विवाद को लेकर आपस में आमने-सामने हुए दो पक्ष के 15 जनों को किशनगढ़ थाना पुलिस ने ऐन वक्त पर पहुंच कर सभी को शांतिभंग के आरोप गिरफ्तार कर लिया।
अजमेर पुलिस अधीक्षक जगदीशचन्द्र शर्मा ने बताया कि गुरुवार को सुबह किशनगढ़ थाना पुलिस को सुचना मिली कि नारायण सैन व शिवराज सैन के परिवार खेत पर जमीन के विवाद को लेकर आमने-सामने हो गए है और गम्भीर घटना हो सकती है। इस पर तत्काल पुलिस टीम काढ़ा गांव पहुंची। यहां पुलिस को जमीन विवाद को लेकर आमने सामने होकर लड़ाई झगडा करते हुए दोनों पक्षों के लोग मिल गए। पुलिस ने आपसी समझाइश कर मामला शांत करने की कोशिश की। लेकिन मामला शांत नहीं होने पर पुलिस ने शांति भंग करने के आरोप में दोनों पक्षों से ग्राम काढ़ा निवासी मनोज उर्फ दीपक (28), विकास (30), कृष्णकुमार उर्फ केशव (18), सपना (40), ममता (40), मंजू (30), शिवराज (34), धन्ना (51), सुरज्ञान (40) यह सभी नाई (सैन) समेत जोगियों का नाड़ा निवासी किशोरनाथ जोगी (20), कमलनाथ जोगी (21) व सोनूनाथ जोगी (35), काढा गांव निवासी नटवर नाई (50) व जगदीश नाई (32) एवं गोरधनपुरा निवासी शैतान रेगर (30) को गिरफ्तार कर लिया। जबकि पूर्व में हत्या के प्रकरण के आरोपी नारायण सैन मोटरसाइकिल लेकर भाग गया और पुलिस से बच निकला।
हो चुकी है वर्ष 2014 में हत्या
जमीनी विवाद को लेकर वर्ष 2014 में इन्हीं दोनों पक्षों के मध्य जमीनी विवाद को लेकर झगडा हुआ था और इसमें पाबूराम सैन की हत्या हो चुकी है। हत्या के इस प्रकरण में आरोपी नारायण सैन व गुमान सैन गिरफ्तार किए जा चुके है। प्रकरण न्यायालय में विचाराधीन है। सूचना पाकर ऐन वक्त पर सीआई बंशीलाल पंडेर के नेतृत्व में टीम मौके पर पहुंच गई और आमने सामने हुए दोनों पक्षों के सभी 15 जनों को शांतिभंग करने के आरोप में पकड़ लिया। अन्यथा यह विवाद एक बार फिर आपसी रंजिश के चलते तुल पकड़ सकता था।

kali charan
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned